मथुरा में मेयर से बस छोटी सी मांग, बंदरों से निजात दिलाने पर मिलेंगे वोट

Santosh Pandey

Publish: Nov, 15 2017 04:46:43 (IST)

Mathura, Uttar Pradesh, India
मथुरा में मेयर से बस छोटी सी मांग, बंदरों से निजात दिलाने पर मिलेंगे वोट

साधु संतों के साथ व्यापारी भी उतरे सड़क पर, सभी ने रखी एक ही बात

मथुरा। वृंदावन नगर निगम के चुनाव में बंदरों का आतंक प्रमुख मुद्दे के रूप में उभरकर सामने आ रहा है। वृन्दावन की जनता बंदरों के आतंक से इस तरह से दुखी है कि अब उन्होंने स्पष्ट रुप से बोल दिया है कि जो बंदरों के खौफ से निजात दिलाएगा उसी को अपना जनप्रतिनिधि बनाएंगे।

सभी की एकराय

मथुरा वृन्दावन नगर निगम चुनाव में यूं तो जनता द्वारा तमाम तरह की समस्याओं को प्रत्याशियों के सामने रखा जा रहा है। लेकिन इन सब में सबसे प्रमुखता के साथ वृंदावन में बंदरों के आतंक की समस्या को रखा जा रहा है। वृंदावन वासियों का कहना है बंदरों के आतंक से स्थानीय जनता के साथ साथ आने वाले देश विदेश के श्रद्धालु भी भारी परेशान हैं वृंदावन के उत्पाती बंदर किसी का चश्मा ले जाते हैं तो किसी का पर्स और उन्हें जब कुछ नजर नहीं आता तो इंसान के ऊपर हमला भी कर देते हैं। बंदरों के हमले से कई लोग अपनी जान भी गवां चुके हैं लेकिन आज तक नगरपालिका हो या स्थानीय प्रशासन,किसी ने बंदरों के आतंक से मुक्ति दिलाने की दिशा में आज तक कोई ठोस कार्य नहीं किया। तभी तो अब जनता ने एक राय होकर मन बना लिया है कि जो उनकी इस प्रमुख समस्या को सुनेगा, गंभीरता से लेगा और बंदरों से मुक्ति दिलाएगा उसी को वोट करेंगे। साधु संत दुकानदार, व्यवसाई, मंदिर के पुजारी आने वाकई श्रद्धालु सभी लोग इस मुद्दे पर एकराय है।

कब मिलेगी निजात ?

स्थानीय संत देव स्वरूपानंद महाराज ने बताया कि हम पहले भी चाहते थे लेकिन पहले जो भी जनप्रतिनिधि थे उन्होंने कोई भी सुनवाई नही की किसी भी तरह उन्होंने संतुष्ट पूर्ण जबाब नही दिया। कार्य नहीं किया हम लोगों की बहुत सारी इच्छाए हैं। वृन्दावन में बंदरों की बहुत ही बड़ी समस्या है और हर दिन देखा जाता है कि स्थानीय लोग हो या बहार से आये हुए श्रद्धालु आये और जो घटना होती है बंदरों की बजह से होती रहती है । महीने में एक से दो घटना ऐसी हो जाती है कि बंदरों की बजह से अपनी जान गवानी पड़ती है । प्रशासन की नजर में सभी घटनाये रहती है नगर पालिका की तरफ से कोई भी बंदरों के ऊपर काम नही किया गया मुझे उम्मीद है कि नगर निगम की तरफ से इन बंदरों से परेशानी को दूर किया जायेगा । आखिर कब बंदरों से मिलेगी निजात हम लोग ऐसा चाहते है कि ऐसा जन प्रतिनिधि आये जो बंदरो के ऊपर पूर्ण रूप से प्रतिबन्ध लगाए जो समस्या है बंदरों की उससे निजात पा सकें ।

 

monakey
patrika IMAGE CREDIT: patrika

कोई विचार नहीं हुआ

स्थानीय निवासी हिमांशू सैनी का कहना है जो भी प्रतिनिधि आये बंदरों से छुटकारा दिलाये ये बंदर कभी दर्शनार्थियों के पर्स और सामान ले जाते है समस्या खड़ी हुई है यहाँ। आम लोगों को भी बहुत बड़ी समस्या है आये दिन किसी न किसी को काट लेते है अभी तक इस मुद्दे पर किसी भी जनप्रतिनिधि का कोई विचार नहीं हुआ ।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned