VIDEO रेलवे ट्रैक पर इस हालत में मिला मासूम, देखने वालों के उड़े होश

VIDEO रेलवे ट्रैक पर इस हालत में मिला मासूम, देखने वालों के उड़े होश

Amit Sharma | Publish: Jul, 18 2019 03:52:32 PM (IST) Mathura, Mathura, Uttar Pradesh, India

-मासूम बच्चा रेलवे ट्रैक पर पड़ा हुआ चीख रहा था, बच्चे के गले में शर्ट से फाँसी का फंदा लगा हुआ था।

-देखने से ऐसा प्रतीत हो रहा था कि किसी ने बच्चे का अपहरण कर उसे मारने की मंशा से रेलवे ट्रैक पर छोड़ दिया हो।

मथुरा। तीन वर्षीय मासूम रेलवे ट्रैक पर रोता हुआ देख लोगों का दिल दहल गया। बच्चे के हाथ पैर बंधे हुए थे और गले में फांसी का फंदा लगा हुआ था। देखने से ऐसा लग रहा था कि बच्चा कई घंटों से यहां पड़ा हुआ है। मामले की सूचना पुलिस को दी गयी, सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्चे को उपचार के लिए भेजा, जहां उसका इलाज चल रहा है। वहीं बच्चे के माता पिता का अभी तक पता नहीं चल पाया है।

यह भी पढ़ें- पानी के विवाद में गर्भवती महिला की गोली मारकर हत्या, देखें वीडियो

Child

यह भी पढ़ें- Snake in District Hospital मरीज के साथ सांप लेकर पहुंचे, मचा हड़कंप, देखें वीडियो

कहीं अपहरण कर मारने की कोशिश तो नहीं?

बता दें कि गुरुवार को मथुरा कासगंज रेलवे ट्रैक पर मुसरिया गांव के पास तीन साल के मासूम बच्चे को रोते बिलखते देख स्थानीय लोग रेलवे ट्रैक पर पहुंच गए। जब स्थानीय लोगों ने मासूम बच्चे को रेलवे ट्रैक पर देखा तो स्थानीय लोगों के पैरों तले जमीन खिसक गई। मासूम बच्चा रेलवे ट्रैक पर पड़ा हुआ चीख रहा था, बच्चे के गले में शर्ट से फाँसी का फंदा लगा हुआ था। देखने से ऐसा प्रतीत हो रहा था कि किसी ने बच्चे का अपहरण कर उसे मारने की मंशा से रेलवे ट्रैक पर छोड़ दिया हो। स्थानीय लोगों ने घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को दी। घटना स्थल पर पहुंची पुलिस ने मासूम बच्चे को कब्जे में लिया और उपचार के लिए अस्पताल भेजा। वहीं पुलिस मासूम बच्चे के माता पिता के बारे में पता करने में जुट गई है।

Child

यह भी पढ़ें- सीएम योगी पर शिवपाल यादव का निशाना, बोले- ‘बाबाजी से नहीं संभल रहा प्रदेश’

क्या कहना है पुलिस का

मामले की जानकारी देते हुए सीओ महावन जगवीर सिंह ने बताया कि बच्चे के रेलवे लाइन पर पड़े होने की सूचना मिली थी। पुलिस मौके पर पहुंची और बच्चे को अपने कब्जे में लेकर उपचार के लिए अस्पताल भेज दिया है। बच्चे के परिजनों का पता किया जा रहा है। पता चलने के बाद बच्चे को उन्हें सौंप दिया जायेगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned