प्रसादम योजना के तहत खाद्य विभाग ने की छापेमारी,लिए नमूने

- प्रसादम योजना के दृष्टिगत की गयी छापेमारी

- खाद्य विभाग की छापेमारी से दुकानदारों में हड़कंप

- होटल और मंदिर की किचिन की देखी गयी रसोई

- कई होटलों को सफ़ाई न मिलने पर थमाया नोटिस

By: arun rawat

Published: 16 Dec 2020, 04:08 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क

मथुरा। जनपद में ईट राइट चैलेंज के तहत चलाई जा रही प्रसादम योजना के दृष्टिगत वृंदावन क्षेत्र के बांके बिहारी मंदिर के आसपास प्रसाद विक्रेताओं को गुणवत्तापूर्ण । स्वच्छता के साथ प्रसाद का निर्माण एवं रखरखाव के लिए उनको जागरूक किया गया साथ ही इस्कॉन मंदिर मंदिर में संचालित कृष्ण बलराम कैंटीन का निरीक्षण किया गया साथ ही उक्त परिसर में प्रसाद का विक्रय किया जा रहा था जहां पर प्रसाद के निर्माण की तिथि तथा उपभोग की तिथि का अंकन करने के लिए निर्देशित किया गया है।


बुधवार को प्रसादम योजना के तहत खाद्य विभाग की टीम ने ठाकुर बाँके बिहारी मंदिर के आसपास बनी दुकानों पर छापेमार कार्यवाई की। ठाकुर जी को लगाए जाने वाले भोग के निर्माण की विधि को समझने के लिए तथा इसी प्रकार मंदिर के आसपास प्रसाद विक्रय कर रहे प्रतिष्ठानों में उक्त विधि के अनुसार प्रसाद तैयार करने के संबंध में विमल कृष्ण दास से इस्कॉन मंदिर में विस्तृत चर्चा की गई। साथ ही प्रसाद विक्रेताओं को भोग तैयार करने की विधि का प्रशिक्षण दिया जाएगा। भगवान बांके बिहारी मंदिर के आसपास प्रसाद विक्रेताओं की दुकानों से प्रसाद की गुणवत्ता बनाए रखने हेतु प्रसाद के सैंपल संग्रहित कर जांच हेतु भेजे जा रहे हैं। जांच उपरांत पाई गई कमियों में सुधार करते हुए प्रसाद की गुणवत्ता को और अधिक उत्कृष्ट बनाया जा सके। खाद्य अधिकारी डॉ गौरी शंकर ने कार्यवाई की जानकारी देते हुए बताया कि कृष्णा नगर में संचालित मधुबन रेस्टोरेंट्स एंड होटल से बार-बार आ रही शिकायतों के मद्देनजर अरहर की दाल, सब्जी की ग्रेवी तथा पनीर के नमूने एकत्रित कर जांच हेतु प्रयोगशाला भेजे जा रहे हैं। उक्त रेस्टोरेंट की जांच के समय टीम ने पाया कि वेज तथा नॉनवेज भोजन को एक साथ रखा जा रहा था और स्वच्छता संतोषजनक नहीं थी।

टीम में देवराज सिंह, गजराज सिंह, डॉक्टर सोमनाथ तथा डॉक्टर शैलेंद्र रावत, सविता शर्मा एवं नंदकिशोर खाद्य सुरक्षा अधिकारी उपस्थित रहे। उक्त कार्रवाई खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के डी ओ डॉ गौरी शंकर के निर्देशन में संपादित की गई।

arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned