श्राइन बोर्ड बनाने के विरोध में मंदिरों के सेवायत, किया बड़ा ऐलान

सेवायतों ने कहा कि अगर योगी सरकार ने फैसला वापस नहीं किया तो वे लोग लट्ठमार होली का बहिष्कार करेंगे।

By: मुकेश कुमार

Published: 25 Jan 2018, 06:42 PM IST

Mathura, Uttar Pradesh, India

मथुरा। गोवर्धन के प्रमुख मंदिरों के अधिग्रहण और श्राइन बोर्ड बनाने के विरोध में गुरुवार को दानघाटी मंदिर में सेवायतों ने महत्वपूर्ण बैठक की। इस बैठक में सभी ने योगी सरकार के इस निर्णय पर आपत्ति जताई। मंदिर सेवायतों का कहना है कि योगी सरकार ब्रज के मंदिरों का समुचित विकास करें। इसमें सरकार का पूरा सहयोग करेंगे, लेकिन मंदिरों का अधिग्रहण बर्दाश्त नहीं करेंगे।


लट्ठमार होली का बहिष्कार करेंगे
बैठक के बाद नंदगांव के नंदबाबा मंदिर के सेवायत गौरव गोस्वामी ने कहा कि अगर योगी सरकार ने गोवर्धन के मंदिरों का अधिग्रहण करने और श्राइन बोर्ड बनाने का फैसला वापस नहीं लिया तो आगामी 24 फरवरी को बरसाना में होने वाली विश्व प्रसिद्ध लट्ठमार होली का बहिष्कार करेंगे। वो बरसाना होली खेले नहीं जाएंगे। बता दें कि इस बार लट्ठमार होली में मुख्यमंत्री के आने की संभावना जताई जा रही है।


पुजारियों पर श्राइन बोर्ड को थोपे नहीं
बरसाना के श्रीजी मन्दिर के सेवायत संजय गोस्वामी ने कहा कि योगी सरकार उनके ऊपर श्राइन बोर्ड को थोपे नहीं। उन्होंने कहा कि वो इस सम्बंध में ब्रज के साधु संतों से भी वार्ता करेंगे और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक अपनी बात का पहुंचाएंगे। बैठक में गोवर्धन के दानघाटी मंदिर, मुकुट मुखारविंद मंदिर, जतीपुरा मुखारविंद मंदिर, श्रीजी मंदिर बरसाना, नंद बाबा मंदिर नंदगांव सहित कई प्रमुख मंदिरों के पुजारियों ने भाग लिया।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned