मथुरा, काशी, आयोध्या को धार्मिक केन्द्र बनाने की सरकार की मंशा

-अपराधी प्रवृत्ति को समाप्त करना सरकार की प्राथमिकताः श्रीकांत शर्मा

By: अमित शर्मा

Published: 08 Dec 2019, 02:48 PM IST

मथुरा। प्रदेश के ऊर्जा एवं वैकल्पिक ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने मथुरा-वृन्दावन विकास प्राधिकरण के सभागार में अधिकारियों की बैठक लेते हुए निर्देश दिये कि सरकार की प्राथमिकता है कि जनपद को अपराध मुक्त बनाया जाए। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था चुस्त रहे। महिला एवं बेटियों के साथ छेड़छाड़ करने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर उनके साथ कड़ी कार्रवाई की जाए। एन्टी रोमियो स्क्वायड गल्र्स कॉलेजों के पास सक्रिय रूप से कार्यरत रहे।

यह भी पढ़ें- सपा नेता की दबंगई, पैसे मांगने पर गैराज मालिक को कार के बोनेट पर बैठाकर दौड़ाई कार, LIVE वीडियो हुआ वायरल

श्रीकांत शर्मा ने आगे कहा कि जनपद में पेट्रोलिंग नियमित रूप से कराई जाय, जिसमें सीओ अपने अधीनस्थ अधिकारियों को लेकर अपने-अपने क्षेत्र में पेट्रोलिंग करते रहें। उन्होंने कहा कि जो अधिकारी काम न करें उन्हें थाने से हटा दिया जाय। उन्होंने ट्रेफिक व्यवस्था को सुचारू रूप से बनाये रखने के लिए अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि परिक्रमा मार्ग की सड़कें जिन कार्यदायी संस्थाओं की हैं वह उन्हें ठीक करायें तथा सड़कों पर होने वाले अतिक्रमणों को हटवायें, जिससे श्रद्धालुओं को किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

यह भी पढ़ें- शहीद मुकुल द्विवेदी के नाम से जाना जाएगा जवाहर बाग: श्रीकांत शर्मा

ऊर्जा मंत्री ने कहा कि सरकार की मंशा है कि प्रत्येक घर को सीवर लाइन से जोड़ा जाय तथा टोंटी से उसे पानी सप्लाई दिया जाय। मंत्री को बताया गया कि 4 हजार सीवर कनेक्शन वृन्दावन में कर दिये गये हैं। मंत्री ने कहा कि जितना कार्य पूर्ण होता जाय उसकी मनीटरिंग भी साथ ही साथ की जाय। उन्होंने कहा कि किसी भी कार्य में गुणवत्ता के साथ कोई समझौता न किया जाय। प्रत्येक कार्य की गुणवत्ता की जांच करायी जाय।

यह भी पढ़ें- अंतरराष्ट्रीय आलू केंद्र के लिए शासन को भेजा गया आगरा के सींगना का प्रस्ताव

ऊर्जा मंत्री ने बांके बिहारी जी से निधिवन तक गलियों को साफ सुथरी व सौन्दर्यपूर्ण बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मथुरा एवं वृन्दावन की सभी गलियों को साफ सुथरी एवं आर्कषित बनाया जाय, जिसकी जिम्मेदारी नगर निगम एवं तीर्थ विकास परिषद आपस में समन्वय करके कार्यों को पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि अवैध रूप से किया गया अतिक्रमण एवं अवैध रूप से लगाये गये होर्डिंग्स को हटाया जाय एवं सड़कों को गढ्ढा मुफ्त रखा जाय। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में इन्टरलॉकिंग या पत्थर लगाये जाने हैं। उन्हें शीघ्र लगाया जाय।

यह भी पढ़ें- भाजपा ने जिलाध्यक्षों की एक और सूची जारी की, वीरसिंह पाल आंवला के पहले जिलाध्यक्ष बने

ऊर्जा मंत्री ने सिंचाई विभाग से नहरों में टेल तक पानी पहुंचाने के निर्देश दिये तथा फोन करके कई ग्रामीणों से नहर में पानी पहुंचने की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने निर्देश दिये कि किसान समृद्धि योजना के तहत प्रत्येक किसान का पंजीकरण आवश्यक रूप से करा दिया जाय साथ ही उनको भेजे जाने वाली किश्तों के संबंध में निरंतर बैठक की जायें। मंत्री ने विभिन्न क्षेत्रों से पानी की ली गई सैम्पलिंग की जांच को देखा और उन्होंने पानी की शुद्धता पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने निर्देश दिये कि जनपद के ग्रामीण एवं शहरी दोनों क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था बनी रहे तथा कूड़े का निस्तारण प्रभावी ढंग से किया जाय। उन्होंने जिला पंचायतराज अधिकारी को निर्देश दिये कि सफाई कर्मचारियों के माध्यम से प्रत्येक गांव में सफाई कराई जाय।

यह भी पढ़ें- डॉ भीमराव आंबेडकर की पुण्यतिथि: मेयर सहित कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

बैठक में महापौर डा. मुकेश आर्यबन्धु, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर, मुख्य विकास अधिकारी रामनेवास, मथुरा वृन्दावन विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष नगेन्द्र सिंह, नगर आयुक्त रविन्द्र कुमार मांदड़, पुलिस अधीक्षक नगर अशोक कुमार मीणा, ट्रेफिक ब्रजेश कुमार सिंह, नगर मजिस्ट्रेट मनोज कुमार सिंह, एमवीडीए सचिव ईश्वर चन्द सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned