जब कान्हा की नगरी में हैलीकॉप्टर से दुल्हन को विदा कराने पहुंचा दूल्हा...

— हैलीकॉप्टर देखने के लिए लोगों की भीड़ जमा हो गई, पुलिस सुरक्षा के इंतजाम भी किए गए थे।

By: arun rawat

Published: 28 Nov 2020, 03:00 PM IST

मथुरा। गाय चराने वाले भगवान श्रीकृष्ण की नगरी में दूल्हा जब दुल्हन को हैलीकॉप्टर में विदा कराने पहुंचा तो देखने वालों की भीड़ लग गई। हैलीकॉप्टर से दुल्हन के विदा होने पर चर्चा का विषय बन गया। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस भी लगाई गई थी।

शादी के तीसरे दिन विदा कराने आया दूल्हा
शादी के तीसरे दिन एक दूल्हा अपनी दुल्हन को हेलिकॉप्टर से विदा कराने उसके घर पहुंचा। ऐसे में आस-पास के स्थानीय लोगों की भीड़ इस नज़ारे को देखने के लिए लग गई। लोग तब तक उस हेलीकॉप्टर को टकटकी लगा कर देखते रहे जबतक वो उनकी नजरों से ओझल नहीं हो गया। लोगों का कहना था कि यहां पहली बार ऐसा हुआ है। मथुरा जनपद स्थित राधा माधव नगर सिविल लाइन निवासी रक्षा पुत्री राजवीर सिंह की शादी अरूण पुत्र चौधरी जगवीर सिंह निवासी राधाकृष्ण सिटी औरंगाबाद मथुरा से 25 नवंबर के दिन हुई थी। कुछ रस्मों के चलते रक्षा की विदाई शादी के तीसरे दिन जय गुरूदेव स्थित हेलीपैड से होनी तय हुई और जब वो 27 नवंबर के दिन विदाई का वो पल आया तब वो हुआ जो किसी ने उम्मीद नहीं की थी। शुक्रवार के दिन अपनी दुल्हन को विदा कराने अरूण हेलीकॉप्टर से नजदीक के जय गुरूदेव स्थित हेलीपैड ग्राउंड में उतरा फिर रक्षा को घर से कार से विदा करा के जय गुरूदेव स्थित हेलीपैड पहुंचा।

बल्देव का था दूल्हा
हैलीकॉप्टर से अपनी बेटी की विदाई देखकर परिवारीजनों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। आखिर सवाल उनकी बेटी की खुशियों का था। हैलीकॉप्टर से दूल्हा जब दुल्हन को अपने पैतृक गांव बल्देव स्थित बरौना लेकर पहुंचा तो सभी ग्रामीण हैलीकॉप्टर से आई। दुल्हन को देखने के लिए एकत्रित हो गए। जहां सभी ग्रामीणों ने दूल्हा-दुल्हन के आगमन पर रास्ते में पुष्प अर्पित कर भव्य स्वागत किया। ग्रामीणों ने बताया कि उनके गांव में पहली बार कोई दूल्हा-दुल्हन को हैलीकॉप्टर से लेकर आया है।

Show More
arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned