जिले में हुई ओलावृष्टि, किसान की बढ़ी चिंता

- गुरूवार की रात तेज बारिश के साथ गिरे ओले

- ओलावृष्टि से फसल हुई बर्बाद

- किसान के माथे पर चिंता की लकीरें

- बरसाना ,नन्द गॉव के साथ-साथ गुहारी गॉव में गिरे ओले

- ओले गिरने से फसल हुई तबाह

By: arun rawat

Updated: 05 Feb 2021, 01:28 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क


मथुरा. जिले में बीती रात तेज हवाओं के साथ हुई बरसात और ओलावृष्टि ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। वही किसानों की फसल बर्बाद ओलावृष्टि के कारण हो गई। ओलावृष्टि से किसान मायूस है।

 

मौसम विभाग के द्वारा जारी किए गए अलर्ट के बाद गुरुवार की मध्य रात्रि को मौसम अचानक से बदल गया और तेज हवाओं के साथ बारिश और ओलावृष्टि हुई। जिले में कई जगह बारिश और ओलावृष्टि देखने को मिली। किसान बारिश और ओलावृष्टि को देख चिंता में पड़ गया और किसानों की फसल बर्बाद हो गई। बता दें कि छाता क्षेत्र के गांव गुहारी, नंद गांव और बरसाना में ओलावृष्टि हुई जिससे गेहूं की फसल के साथ-साथ आलू और सरसों की फसल में भी काफी नुकसान देखने को मिला। नंद गांव और बरसाना क्षेत्र के किसानों से बात की तो उन्होंने बताया ओलावृष्टि से काफी नुकसान हुआ है और फसल 70% बर्बाद हो गई है। किसान मेघ श्याम ने बताया यह तो किसान पहले ही परेशान है। ना तो फसल का सही दाम मिलता है और ना ही फसल पूरी तरह खेत में पकाती है। बिन मौसम बरसात होने की वजह से फसल तो बर्बाद हो गयी है।

By - Nirmal Rajpoot

arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned