विकास कराने में हेमा मालिनी ने जताई असमर्थता, बताया आखिर कौन रोक रहा है काम करने से?

हेमा मालिनी ने स्थानीय लोगों पर अहयोग का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि हम लोग जो मन में सोच कर आते हैं, यहां के लोगों के असहयोग की वजह से वो सब छोड़ देते हैं।

मथुरा। प्रसिद्ध फिल्म सिने तारिका और मथुरा की सांसद हेमा मालिनी दो दिवसीय दौरे पर मथुरा आई हुई हैं। दौरे के दूसरे दिन उन्होंने राधा रानी की जन्म स्थली रावल में चल रहे विकास कार्यों का जायजा लिया। सांसद हेमा रावल में विकास कार्यों से असंतुष्ट नजर आईं। उन्होंने साफ कहा कि वह करना तो बहुत चाहती हैं लेकिन जैसा वह सोच रही हैं वैसा हो नहीं सकता। काम में रुकावट बहुत आती हैं।

यह भी पढ़ें- रफ्तार का कहर: रोडवेज बस ने कार को रौंदा, तीन लोगों की मौके पर ही मौत, सात घायल

विकास कार्यों से असंतुष्ट दिखीं हेमा

सांसद हेमा के द्वारा किए गए निरीक्षण से वह बेहद असंतुष्ट नजर आईं और उन्होंने कहा जिस हिसाब से विकास कार्य होने चाहिए उस हिसाब से काम नहीं हो रहा है। हम लोग पैसा दे देते हैं लेकिन यह लोग (स्थानीय) होने नहीं देते। वहीं मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने कहा कि राधा रानी की जो जन्मस्थली है उसको सौंदर्य बनाने का संकल्प लिया है लेकिन यहां के लोग इसे सुंदर नहीं बनाने देते। उन्होंने कहा कि निरीक्षण में काफी कमी मिली है। साथ ही उन्होंने कहा कि पैसे का भी प्रॉब्लम होता है और मेंटिनेंस का भी।

यह भी पढ़ें- लोग आत्महत्या कर रहे हैं तो पुलिस क्या करे, यह एक बीमारी हैः मंत्री

पानी पीना है तो 50 रुपए महीना तो देना ही पड़ेगा

सांसद हेमा ने कहा कि 18 लाख की लागत से आरओ प्लांट लगवाया था ताकि लोगों को पीने के लिए साफ और शुद्ध पानी मिले लेकिन उसका रखरखाव नहीं हो पा रहा है। उन्होंने स्थानीय लोगों की तरफ इशारा करते हुए कहा कि पानी पीना है तो 50 रुपए महीना तो हर व्यक्ति को देना ही पड़ेगा। वहीं उन्होंने कहा कि हम लोग जो मन में सोच कर आते हैं, यहां के लोगों के असहयोग की वजह से वो सब छोड़ देते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि मंदिर के आसपास वह काफी कुछ करना चाहती हैं लेकिन स्थानीय लोग कह रहे हैं कि वह नहीं होने देंगे।

यह भी पढ़ें- मदरसे की आड़ में पशु कटान, दो गिरफ्तार, मची खलबली, देखें वीडियो

सुब्रमण्यम स्वामी के सवाल पर भड़के

सांसद हेमा से जब सुब्रमण्यम स्वामी द्वारा दिए गए राम मंदिर पर बयान के बारे में उनसे सवाल किया तो वह पत्रकारों पर ही भड़क उठे और उन्होंने कहा कि सुब्रमण्यम स्वामी को छोड़ो रावल की बात करो क्या सुब्रमण्यम स्वामी लगा रखा है।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned