UP PCS 2017 Result: ब्रज के लाल ने लहराया परचम, 16 वीं रैंक पाकर मारी बाजी

UP PCS 2017 Result: ब्रज के लाल ने लहराया परचम, 16 वीं रैंक पाकर मारी बाजी
UP PCS 2017 Result: ब्रज के लाल ने लहराया परचम, 16 वीं रैंक पाकर मारी बाजी

Amit Sharma | Updated: 11 Oct 2019, 03:06:41 PM (IST) Mathura, Mathura, Uttar Pradesh, India

मानवेन्द्र ने उत्तर प्रदेश में 16 वी रैंक हासिल करते हुए आगरा मंडल में पहला स्थान प्राप्त किया है।

मथुरा। मन में अगर कुछ कर दिखाने का जज्बा हो तो कोई भी राह मुश्किल नहीं होती। ऐसा ही कर दिखाया है एक छोटे से गांव के युवा मानवेन्द्र ने। मानवेन्द्र ने 2017 PCS परीक्षा में सफलता हासिल की है। मानवेन्द्र ने उत्तर प्रदेश में 16 वी रैंक हासिल करते हुए आगरा मंडल में पहला स्थान प्राप्त किया है। मानवेन्द्र वर्तमान में सहायक श्रम आयुक्त पद पर गाजियाबाद में तैनात है। तो वहीं 2017 की परीक्षा में सफ़लता पाते हुए SDM बने हैं। मानवेन्द्र की इस सफलता से उनके परिवार में ख़ुशी का माहौल है।

यह भी पढ़ें- Yamuna Expressway पर टकराई गाड़ियां, एक दर्जन से अधिक घायल

प्रदेश में आई 16 वीं रैंक

बल्देव इलाके के नाहर गढ़ी के रहने वाले मानवेन्द्र शरू से ही पढ़ने में अव्वल रहे हुए। मानवेन्द्र ने हाई स्कूल और इंटर यूपी बोर्ड से किया। जिसमें उन्होंने टॉप किया था। मानवेन्द्र के पिता वीरेंद्र सिंह रेलवे में अधिकारी रहे है और अब रिटायर्ड होकर सामाजिक कार्यों में अपना योगदान देते है। मानवेन्द्र तीन भाई बहन है मानवेन्द्र के बड़े भाई अजीत ने भी पीसीएसजे की परीक्षा को पास किया और फिरोजाबाद में जज के पद पर तैनात हैं। वहीं मानवेन्द्र की छोटी बहन गरिमा चौधरी भी सिविल सर्विस तैयारी कर रही हैं। मानवेन्द्र की सफलता से पूरे गांव में ख़ुशी का माहौल है और मानवेन्द्र के घर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। लोगों का कहना है कि मानवेन्द्र ने न सिर्फ उनके गांव का नाम रौशन किया है बल्कि प्रदेश में 16 वीं रैंक लाकर मथुरा का नाम भी रौशन किया है।

यह भी पढ़ें- दीपावली से पहले फिरोजाबाद पुलिस ने पकड़ी अवैध शराब, देेखें वीडियो

मानवेंद्र के प्रेरणा स्रोत रहे अजीत

मानवेन्द्र ने अपनी सफलता के लिए अपने माता पिता को इसका श्रेय दिया है। तो वहीं मानवेन्द्र के पिता वीरेंद्र सिंह ने मानवेन्द्र की लगन और मेहनत को ही इस सफ़लता का हक़दार बताया है और मानवेन्द्र के बड़े भाई अजीत को इनका प्रेरणा का श्रोत बताया। मानवेन्द्र की सफलता के बाद परिवार के सभी सदस्य बेहद ख़ुश है ।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned