इंदौर-सूरत की तरह मथुरा में लगाए जा रहे अत्याधुनिक अंडरग्राउंड डस्टबिन, सेंसर से मिलेगी भरने की सूचना, जानिए क्या होगा खास!

इंदौर और सूरत की तर्ज पर नगर निगम पहली बार मथुरा-वृंदावन में अत्याधुनिक अंडरग्राउंड डस्टबिन लगा रहा है।

By: suchita mishra

Published: 18 Dec 2018, 12:33 PM IST

मथुरा। स्वच्छ भारत अभियान के तहत मथुरा नगर निगम इंदौर और सूरत की तर्ज पर जिले में नया प्रयोग कर रहा है। निगम पहली बार मथुरा-वृंदावन में अत्याधुनिक अंडरग्राउंड डस्टबिन लगा रहा है। शुरुआत में कुल 10 डस्टबिन लगाए जाने का प्रस्ताव है। पहला डस्टबिन कलक्ट्रेट के पास जिलाधिकारी कॉलोनी की तरफ जाने वाले मार्ग पर लगाया जा चुका है।

ये होंगी विशेषताएं
लेटर बॉक्स के आकार का दिखने वाले डस्टबिन की क्षमता एक से डेढ़ टन की है। कुछ स्थानों पर एक एक टन के दो डस्टबिन एक साथ लगाए जाएंगे ताकि दो टन कचरा एक ही स्थान पर इकट्ठा हो सके। वहीं कुछ स्थानों पर डेढ़ टन का डस्टबिन लगाया जाएगा। इन डस्टबिन में सेंसर लगाया गया है, जिससे डस्टबिन के भरने की सूचना कंट्रोल रूम को प्राप्त हो जाएगी। डस्टबिन में एयर प्रेशर पंप भी लगाया गया है जो नगर निगम की कूड़ा उठाने वाली गाड़ियों से संचालित होगा। इस एयर प्रेशर पंप के कारण डस्टबिन अपने आप जमीन की सतह से ऊपर आ जाएंगे तथा उसका कूड़ा निकलकर गाड़ियों में खाली हो जाएगा। इसके बाद डस्टबिन फिर से जमीन के अंदर चले जाएंगे। अंडरग्राउंड डस्टबिन लगाने से कूड़े के सड़क पर फैलने तथा पशुओं के द्वारा उसे अव्यवस्थित करने का खतरा भी नहीं रहेगा।

 

Show More
suchita mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned