मथुरा के एक बड़े संत पर एफआईआर

थाना गोविंदनगर में श्रीकृष्ण जन्म भूमि न्यास ट्रस्ट के वृंदावन के तथाकथित सन्त देव मुरारी बापू सहित 12 लोगों के विरुद्ध धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जाँच शुरू कर दी है।

By: Mahendra Pratap

Updated: 22 Aug 2020, 12:23 PM IST

Mathura, Mathura, Uttar Pradesh, India

मथुरा. थाना गोविंदनगर में श्रीकृष्ण जन्म भूमि न्यास ट्रस्ट के वृंदावन के तथाकथित सन्त देव मुरारी बापू सहित 12 लोगों के विरुद्ध धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जाँच शुरू कर दी है।

वृंदावन के एक तथाकथित संत देव मुरारी बापू के कुछ दिनों पूर्व श्रीकृष्ण जन्मभूमि निर्माण न्यास का रजिस्ट्रेशन कराकर गठन कर लिया था। इस मामले को श्रीकृष्ण जन्मस्थान ट्रस्ट ने गम्भीरता से लेते हुए वृंदावन के तथाकथित सन्त देव मुरारी बापू सहित 12 लोगों के विरूद्ध मामला दर्ज कराया है। मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मस्थान ट्रस्ट के गठन 24 फरवरी 1951 को मदन मोहन मालवीय की प्रेरणा से ट्रस्ट का गठन किया गया था। इस ट्रस्ट में परम सन्त अखण्डानन्द जी महाराज, विरक्त सन्त स्वामी वामदेव जी महाराज एव वर्तमान में अयोध्या राम जन्मभूमि ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास महाराज है।

श्री कृष्ण जन्मस्थान ट्रस्ट के सचिव कपिल शर्मा का कहना है कि वृंदावन के कथा वाचक देव मुरारी बापू द्वारा श्रीकृष्ण जन्मस्थान ट्रस्ट से मिलता जुलता श्री कृष्ण जन्मभूमि निर्माण न्यास का रजिस्ट्रेशन कराकर गठन कर लिया है इससे श्री कृष्ण जन्मभूमि पर आने वाले करोड़ों भक्तों को भ्रम की स्थिति उत्पन्न हुई है। उनका कहना है कि कथावाचक देव मुरारी बापू ने कल धोखाधड़ी षड्यंत्र करके आम जनमानस को गुमराह करने का प्रयास किया है इसके विरुद्ध श्री कृष्ण जन्मस्थान ट्रस्ट की ओर से थाना गोविंद नगर में मामला दर्ज कराया है। उन्होंने बताया कि आज से 70 वर्ष पूर्व महामना पंडित मदनमोहन मालवीय की प्रेरणा से श्री कृष्ण जन्मस्थान ट्रस्ट का गठन किया गया था आज भी चल रहा है।

जांच के बाद सख्त कार्रवाई :- सीओ सिटी वरुण कुमार सिंह का कहना है कि श्रीकृष्ण जन्मस्थान के सचिव कपिल शर्मा की तहरीर के आधार पर कुछ नामजद व्यक्तियों के विरुद्ध 406, 420 धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में गुण दोष के आधार पर विवेचना कार्यवाही की जाएगी, जो भी दोषी होंगे उनके ख़िलाफ़ दंडात्मक कार्यवाई अमल में लायी जाएगी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned