नेपाल के प्रधानमंत्री के बेतुके ब्यान से नाराज संतों ने फूँका पुतला

भारत चीन के विवाद के बीच नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा औली का भगवान श्रीराम के लिए आये बयान के बाद जहां भारत के लोगों में गुस्सा है।

By: Abhishek Gupta

Updated: 15 Jul 2020, 05:42 PM IST

मथुरा. भारत चीन के विवाद के बीच नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा औली का भगवान श्रीराम के लिए आये बयान के बाद जहां भारत के लोगों में गुस्सा है। वहीं भारत में रह रहे नेपाल वासी भी अब अपने देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ गुस्से में हैं।

बुधवार को वृन्दावन में धर्माचार्यों के साथ नेपाली समाज के धर्माचार्यों ने नेपाल के प्रधानमंत्री का पुतला फूँक अपने आक्रोश का इजहार किया । नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा औली के बयान 'भगवान राम अयोध्या में नहीं नेपाल में जन्मे थे' को लेकर देश भर में गुस्सा है। बुधवार को वृन्दावन में नेपाल समाज के रहने वाले धर्माचार्यों ने स्थानीय धर्माचार्यों के साथ मिलकर नेपाल के प्रधानमंत्री का विरोध किया और उनका पुतला दहन कर भगवान राम की जयजयकार की । नेपाल के धर्माचार्य हरिशरण ने कहा कि चीन विश्व से आध्यात्मिक माहौल को खत्म करना चाहता है और नेपाल के प्रधानमंत्री का बयान केवल हास्यास्पद है।

स्थानीय धर्माचार्य मनोज मोहन शास्त्री ने कहा कि नेपाल के प्रधानमंत्री औली के बयान ने गोली से होने वाले घाव जैसा काम किया है। काशी विद्वत परिषद पश्चिमांचल के प्रभारी नागेंद्र महाराज ने कहा कि सरयू किनारे भगवान राम का जन्म हुआ, क्या नेपाल में सरयू है। वहीं उन्होंने कहा कि इतिहास बदल सकता है पुराण नहीं।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned