मथुरा में साधुओं की हत्या का खुलासा, रामायण के पाठ के दौरान चाय में दिया गया था जहर

Highlights

- गोवर्धन थाना क्षेत्र में 21 नवंबर की रात हुई दो साधुओं की हत्या का मामला

- साथी साधु ने ही दिया था दोहरे हत्याकांड को अंजाम

- पुलिस ने आरोपी साधु रामबाबू को गिरफ्तार कर जेल भेजा

By: lokesh verma

Published: 28 Nov 2020, 04:15 PM IST

मथुरा. गोवर्धन थाना क्षेत्र में 21 नवंबर की रात हुई दो साधुओं की हत्या के मामले में पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है। पुलिस के अनुसार, दोनों साधुओं की हत्या की वारदात को उनके ही साथ रहने वाले एक साधु ने अंजाम दिया था। पुलिस ने आरोपी साधु रामबाबू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

यह भी पढ़ें- 2 दिन में 4 हत्याओं से दहला बलिया, सहेली के सामने लड़की का गला रेता, मां-बेटी की हत्या, अब अधेड़ की नृशंस हत्या

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, गोवार्धन स्थित गिरराज बाग में आश्रम की छत पर बाबा श्यामसुंदर दास और बाबा गुलाब सिंह उर्फ गोपाल दास रात के समय रामायण का पाठ कर रहे थे। इसी दौरान उनके साथ रहने वाले एक साधु रामबाबू ने उन्हें कीटनाशक मिलाकर चाय पीने को दे दी। चाय पीते ही दोनों साधुओं की हालत बिगड़ने लगी और कुछ ही देर में दोनों ने दम तोड़ दिया। एसएसपी मथुरा डॉ. गौरव ग्रोवर के अनुसार, पूछताछ के दौरान आरोपी साधु रामबाबू ने पुलिस को गुमराह करने का पूरा प्रयास किया, लेकिन वह अपने बयानों में खुद ही उलझता चला गया और हत्या की बात कबूल ली।

एसएसपी मथुरा डॉ. गौरव ग्रोवर ने दोहरे हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि घटना के दो दिन पहले ही आरोपी साधु रामबाबू और दोनों साधुओं के बीच किसी बात को लेकर मामूली कहासुनी हो गई थी, जिसके बाद रामबाबू ने दोनों की हत्या की साजिश रचते हुए चाय में कीटनाशक दवा मिलाकर दोनों साधुओं बाबा गुलाब सिंह और बाबा श्यामसुंदर दास को पिला दी।

यह भी पढ़ें- ई-रिक्शा चालक ब्लाइंड मर्डर केस का सनसनीखेज खुलासा

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned