कृष्ण जन्मभूमि विवाद में नया ट्विस्ट, नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रपौत्री भी बनेंगी पक्षकार

Highlights

- नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रपौत्री राजश्री चौधरी ने पक्षकार बनने के लिए डाली याचिका

- कहा- श्रीकृष्ण जन्मभूमि परिसर में बनी ईदगाह मस्जिद अवैध

- काशी विश्वनाथ और तेजो महल के लिए भी लड़ेंगी लड़ाई

By: lokesh verma

Published: 13 Nov 2020, 12:49 PM IST

मथुरा. श्रीकृष्ण जन्मभूमि स्थान विवाद से जुड़े मामले में अब नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रपोत्री भी आ गई हैं। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रपोत्री और हिंदू महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष राजश्री चौधरी ने भी कोर्ट में पक्षकार बनने की अपील दायर की है। राजश्री चौधरी ने का कहना है कि उनका संगठन भी हिंदुओं के पक्ष में लड़ेगा। उन्होंने कहा कि कृष्ण जन्मभूमि के बाजू में बनी ईदगाह अवैध है। उन्होंने बताया कि इसके साथ ही हम काशी विश्वनाथ और तेजो महल के लिए भी लड़ाई लड़ेंगे।

यह भी पढ़ें- अयोध्या में दीपोत्सव आज से शुरू, राम की पैड़ी पर बनेगा नया वर्ल्ड रिकॉर्ड, राज्यपाल और सीएम योगी होंगे शामिल

बता दें कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की छह बहनें थीं, जिनमें से एक राजश्री चौधरी की परदादी भी थीं। 2018 में ही राजश्री चौधरी हिंदू महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष बनी हैं। श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बाद वह हिंदू महासभा की दूसरी बंगाली अध्यक्षा हैं। गुरुवार को मथुरा पहुंची हिंदू महासभा की अध्यक्ष ने पत्रकारों से वार्ता के दौरान कहा कि उनका संगठन हिंदुओं के पक्ष में ही लड़ाई लड़ेगा। चौधरी का दावा है कि श्रीकृष्ण जन्मभूमि परिसर में बनी ईदगाह मस्जिद अवैध है।

उल्लेखनीय है कि श्रीकृष्ण मंदिर के बगल में बनी ईदगाह मस्जिद को हटवाने के लिए के लिए अक्टूबर में आई याचिका को मथुरा कोर्ट ने स्वीकार किया था। इस याचिका को भगवान श्रीकृष्ण विराजमान की तरफ से रंजना अग्निहोत्री के साथ पांच लोगों ने दायर किया था। रंजना अग्निहोत्री लखनऊ की रहने वाली हैं। उन्होंने दावा किया है कि मंदिर के 13.37 एकड़ के परिसर में स्थित ईदगाह मस्जिद भगवान श्रीकृष्ण के जन्मस्थान पर बनाई गई थी। इसलिए इसे हटाने की मांग की गई।

यह भी पढ़ें- यूपी के 25 हजार मदरसा शिक्षकों को मिलेगा 70 दिन का मानदेय, केंद्र ने जारी किए 50 करोड़ 89 लाख रुपये

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned