केडी मेडिकल कॉलेज में तालाबंदी कर नर्सिंग स्टाफ ने किया हंगामा

साथी कर्मचारी के साथ हुई अभद्रता से आक्रोशित नर्सिंग स्टाफ ने केडी मेडिकल कॉलेज के गेट पर ताला लगा दिया।

By: मुकेश कुमार

Published: 11 Sep 2017, 04:43 PM IST

मथुरा। छाता थाना इलाके में नेशनल हाईवे 2 के समीप स्थित केडी मेडिकल कॉलेज के नर्सिंग स्टाफ ने सोमवार को कॉलेज गेट पर ताला लगा दिया। जिसके बाद वार्ड व्बॉय और नर्सों ने कॉलेज के बाहर हंगामा किया। इस दौरान उन्होंने मैनेजमेंट के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। नर्सिंग स्टाफ ने कॉलेज मैनेजमेंट पर शोषण करने का आरोप लगाया है।

कॉलेज के गेट पर लगाया ताला
साथी कर्मचारी के साथ हुई अभद्रता से आक्रोशित नर्सिंग स्टाफ ने केडी मेडिकल कॉलेज के गेट पर ताला लगा दिया। जिसके बाद पूरा नर्सिंग स्टाफ कॉलेज से बाहर आ गया। वार्ड व्बॉय और नर्सों ने कॉलेज मैनेजमेंट पर दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। वार्ड व्बॉयज का कहना था कि कॉलेज के डॉक्टर उनके साथ बदसलूकी करते हैं। बिना वजह के उनको सस्पेंड कर दिया जाता है।

नर्सिंग स्टाफ का हो रहा है शोषण
प्रदर्शन कर रहे नर्सिंग स्टाफ के धर्मेंद्र त्यागी ने बताया कि वे लोग पिछले दो साल से केडी मेडिकल कॉलेज में काम कर रहे हैं। कॉलेज मैनेजमेंट द्वारा लगातार उनका शोषण किया जा रहा है। कॉलेज के डॉक्टर्स वार्ड व्बॉय और नर्सों के साथ दुर्व्यवहार करते हैं। धर्मेंद्र त्यागी ने कहा कि वे लोग मरीजों की ढंग से देखभाल करते हैं। फिर भी बिना गलती के उनको सस्पेंड कर दिया जाता है। उन्होंने कहा कि दो साल हो चुके हैं। अभी तक उनका वेतन नहीं बढ़ाया गया है। वे लोग आठ-आठ हजार रुपए पर यहां काम कर रहे हैं।

नर्सिंग स्टाफ की मांगें
नर्सिंग स्टाफ की मांग है कि कॉलेज मैनेजमेंट द्वारा उनका शोषण बंद हो। कॉलेज के डॉक्टर अमित शर्मा को हटा जाए और सस्पेंड कर्मचारी को बहाल किया जाए। साथ ही नर्सिंग स्टाफ के वेतन में बढ़ोतरी हो। जब तक उनकी मांगें नहीं मानी जाती वे काम पर नहीं जाएंगे। विरोध के चलते केडी मेडिकल कॉलेज में स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गईं हैं। यहां आने वाले वाले मरीजों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

Show More
मुकेश कुमार
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned