26 जनवरी को राजपथ पर परेड में ट्रैक्टर के साथ शामिल होंगे किसान, गांव गांव जाकर की जा रही पंचायत

- 26 जनवरी की ट्रैक्टर परेड में जुटने की तैयारी
- गॉव गॉव जाकर कर रहे पंचायत
- दिल्ली में होने बाली परेड के लिए किसानों ने भरी हुँकार
- कृषि बिल के विरोध में किसानों का चल रहा है प्रदर्शन

By: arun rawat

Published: 20 Jan 2021, 01:52 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क


मथुरा. भाकियू के राष्ट्रीय (Bhaarateey Kisaan Yooniyan) आवाहन पर तहसील मांट के गांव नावली, शल्ल, बलीपुर, गढ़ी सामन्ता, उदिया गढ़ी आदि गांवों में भारत सरकार द्वारा लाए गए तीन काले कानूनों (Krashi Bill) के विरोध में तहसील अध्यक्ष के नेतृत्व में गाँव-गाँव पंचायत कर (Public Awareness Raily) जन जागरूकता रैली निकाली।

 

देश में सरकार द्वारा लागू किये गए कृषि कानून (Krashi Bill) के विरोध में देश भर के किसान सरकार के ख़िलाफ़ प्रदर्शन (Protest) कर रहे है। वही मंगलवार को किसानों के द्वारा गाँव-गाँव जा कर पंचायत की जा रही है और ग्रामीणों को सरकार के छलाबे (Government Tricks) के बारे में बताया जा रहा है। वही मांट तहसील के दर्जनों गाँवों में पंचायतें की गयी। तहसील अध्यक्ष रोहिताश चौधरी ने किसानों को कृषि क़ानूनों (Krashi Bill) के नुकसान के बारे में बताया। किसान बिरादरी को बचाने के लिए किसानों को संगठित होकर (By organizing) अपनी लड़ाई को लड़ना पड़ेगा।

 

नावली, शल्ल, बलीपुर, गढ़ी सामन्ता, उदिया गढ़ी में हुए पंचायतों के बारे में जानकारी देते हुए तहसील मीडिया प्रभारी शिव कुमार तौमर ने बताया कि किसानों से अधिक से अधिक संख्या में ट्रैक्टरों के साथ पहुँचकर 26 जनवरी के परेड (Pared) कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए दिल्ली (Delhi ) जाने की अपील की। किसान रैली (Kisan Railly) के समर्थन में किसानों ने भरपूर समर्थन व सहयोग का आश्वासन दिया।


तहसील प्रवक्ता राजपाल सिंह, तहसील सचिव शिवा चौधरी, तहसील सचिव अजीत सिंह मास्टर, ब्लॉक अध्यक्ष नौहझील चुनमुन चौधरी,संजीव चौधरी, भूपेंद्र चौधरी, हेमन्त सिंह, वीरेंद्र सिंह, ऋषि, ब्रजमोहन आदि सैकड़ों किसान रहे मौजूद।

By - Nirmal Rajpoot

arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned