शहीद की अंत्येष्टि में उमड़ा जनसैलाब, पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे, देखें वीडियो

शहीद की अंत्येष्टि में उमड़ा जनसैलाब, पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे, देखें वीडियो
martyrs

Bhanu Pratap Singh | Publish: Aug, 15 2018 08:10:13 AM (IST) | Updated: Aug, 15 2018 08:12:07 AM (IST) Mathura, Uttar Pradesh, India

गोवर्धन का लाल पुष्पेन्द्र कश्मीर में हुआ शहीद

गोवर्धन। स्वतन्त्रता दिवस की पूर्व सन्ध्या पर श्रीनगर में शहीद हुए सैनिक पुष्पेन्द्र को उसके गांव नगला खुटिया में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। उनको पार्थिव शरीर को राजकीय ध्वज में ले जाया गया। अंतिम विदाई में पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाये गए। हजारों के सैलाब में हिन्दुस्तान जिन्दाबाद के नारे भी लगाये गए।

यह भी पढ़ें

कासगंज: चप्पे-चप्पे पर पुलिस फोर्‌स तैनात, तिरंगा यात्रा निकालने की कोशिश की तो होगी कड़ी कार्रवाई

 

कुपवाड़ा में हुए शहीद

बीते दिन पाक की नापाक हरकत को नाकामयाब करने के दौरान नगला खुटिया का रहने वाला 27 वर्षीय पुष्पेन्द्र आतंकवादियों की गोली का शिकार हुआ । बताया गया कि उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के टंगधार सेक्टर में एलओसी की घुसपैठ की कोशिश को नाकाम करने के दौरान दुश्मनों से लोहा लेते ही पुष्पेन्द्र शहीद हो गये। पुष्पेन्द्र की शहादत की खबर बीती रात्रि मिली थी। पुष्पेन्द्र वर्ष 2011 में सेना में भर्ती हुए थे। 27 साल के पुष्पेन्द्र सिंह का विवाह 17 फरवरी 2016 आगरा के गांव जोनई निवासी सुधा के साथ हुआ था। दो माह पूर्व ही घर से छुट्टी से लौटकर ड्यूटी पर पहुंचे थे। मंगलवार की शाम सात बजे शहीद के पार्थिव शरीर पहुंचा।

यह भी पढ़ें

नागपंचमी पर 38 साल बाद विशेष योग, कालसर्प दोष निवारण के लिए सर्वोत्तम है ये दिन

रात्रि में हुआ अंतिम संस्कार

सौंख-भरतपुर मार्ग स्थित नगला खुटिया में हजारों का सैलाब शहीद के दर्शनों को उमड़ पड़ा। कैबनेट मंत्री लक्ष्मीनारायण शर्मा, जिलाधिकारी मथुरा सर्वज्ञराम मिश्रा, एस एस पी मथुरा बबलू कुमार, विधायक ठाकुर कारिंदा सिंह आदि की मौजूदगी में अंतिम विदाई दी गई। उनका रात्रि में करीब 8 बजे अंतिम संस्कार किया गया। भीड़ के सैलाब की कई किलोमीटर लाइन लग गई।

यह भी पढ़ें

एएमयू में औरंगजेब के लिए कही गई ऐसी बात कि हिन्दूवादी सुन लेते तो खून खौल जाता

20 लाख का चेक दिया

शहीद की पत्नी सुधा ने शहादत को नमन किया। उसने कहा कि 15 अगस्त को मुखाग्नि दी गयी है। वह अपने बेटे सिद्धार्थ (7 माह) को खूब पढ़ाएंगी लिखायेंगी। उन्होंने साफ लहजे में कहा कि सरकार को पाकिस्तान पर बड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। उत्तर प्रदेश सरकार की और से शहीद की विधवा को 20 लाख रूपये का चेक दिया गया।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned