scriptराधारानी पर टिप्पणी कर पंडित प्रदीप मिश्रा की बढ़ी मुश्किलें, FIR दर्ज करने की मांग | Patrika News
मथुरा

राधारानी पर टिप्पणी कर पंडित प्रदीप मिश्रा की बढ़ी मुश्किलें, FIR दर्ज करने की मांग

राधारानी को लेकर कथा वाचक प्रदीप मिश्रा द्वारा की गई टिप्पणी पर ब्रज के संत समाज में आक्रोश है। अब लोगों की मांग है कि व्यास पीठ से ऐसी बातें बोलकर राधा रानी के बारे में टिप्पणी करना गलत है। लोगों की मांग है कि कथा वाचक प्रदीप मिश्रा को क्षमा मांगनी चाहिए।

मथुराJun 12, 2024 / 07:58 pm

Prateek Pandey

Pandit Pradeep Mishra troubles increased by commenting on Radharani

Pandit Pradeep Mishra troubles increased by commenting on Radharani

व्यास गद्दी पर बैठे मशहूर कथा वाचक प्रदीप मिश्रा के खिलाफ भी मथुरा के लोगों में काफी गुस्सा देखने को मिल रहा है। प्रेमानंद महाराज ने भी पंडित प्रदीप मिश्रा पर नाराज हो गए हैं।

ब्रज तीर्थ देवालय व्यास ने SSP को सौंपा ज्ञापन

लोगों की मांग है कि व्यास पीठ प्रदीप मिश्रा द्वारा राधारानी के बारे में इस तरह से टिप्पणी करना बिल्कुल गलत है और उनको लोगों से क्षमा मांगनी चाहिए। अगर वह ऐसा नहीं करते तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसी सिलसिले में ब्रज तीर्थ देवालय व्यास के सभी प्रतिनिधियों ने SSP शैलेश कुमार पांडेय को ज्ञापन सौंपा और प्रदीप मिश्रा के खिलाफ FIR दर्ज कर कार्यवाही की मांग की।

माफी मांगें पंडित प्रदीप मिश्रा

ब्रज तीर्थ देवालय न्यास प्रतिनिधियों का कहना है, ‘उनकी मां राधारानी जी ब्रज की अधिष्ठात्री देवी है। उनके बारे में प्रदीप मिश्रा ने जिस तरह अनरगल बातें की हैं, वह क्षमा योग्य नहीं है, उनके खिलाफ तत्काल प्रभाव से कार्रवाई की जाए, या तो प्रदीप मिश्रा जल्द से जल्द अपनी कही हुई बातों के लिए माफी मांगे। राधा रानी जी के मंदिर में आकर क्षमा याचना करें, नहीं तो बृजवासी उन्हें कभी भी माफ नहीं करेंगे’।
यह भी पढ़ें

पहली बार रौद्र रूप में दिखे प्रेमानंद महाराज, पंडित प्रदीप मिश्रा को सुनाई खरी-खोटी

पंडित प्रदीप मिश्रा ने क्या दिया था बयान

दरअसल प्रदीप मिश्रा ने एक कथा के दौरान लोगों से पूछा था कि राधा जी कहां की रहने वाली हैं तो लोगों ने कहा था बरसाना की। पंडित प्रदीप मिश्रा ने कहा था कि राधा जी बरसाना की नहीं रावल गांव की रहने वाली हैं और बरसाने में राधा जी के पिताजी की कचहरी थी वो साल में एक बार इस कचहरी में जाती थीं इसलिए उसका नाम बरसाना है। बरस में एक बार आना। इसके अलावा, प्रदीप मिश्रा ने ये भी कहा था कि कृष्ण की पत्नियों में भी राधा का नाम नहीं है उनके पति का नाम अनय घोष है। राधा जी की शादी छात्रा गांव में हुई थी और उनकी सास का नाम जटिला और ननद का नाम कुटिला था।

Hindi News/ Mathura / राधारानी पर टिप्पणी कर पंडित प्रदीप मिश्रा की बढ़ी मुश्किलें, FIR दर्ज करने की मांग

ट्रेंडिंग वीडियो