स्टूडेंट्स ने बनाई 10.7 किमी लंबी मानव श्रृंखला, पॉलीथिन मुक्त वृंदावन की अपील

वृंदावन को पॉलीथिन मुक्त करने के लिए शुक्रवार को जन जागरूक अभियान की शुरुआत की गई।

By: मुकेश कुमार

Updated: 10 Nov 2017, 09:34 PM IST

मथुरा। वृंदावन को पॉलीथिन मुक्त करने के लिए शुक्रवार को जन जागरूक अभियान की शुरुआत की गई। इस अभियान में वृंदावन नगर में ऐतिहासिक मानव श्रंखला बनाई गई। जिसमें 11000 से अधिक स्टूडेंट्स भाग लिया। इस अभियान में प्रशासनिक अधिकारियों के साथ-साथ ही स्थानीय समाजसेवियों ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। मानव श्रंखला का उद्देश्य था भगवान श्रीकृष्ण की क्रीड़ास्थल वृंदावन को साफ-स्वच्छ और पॉलीथिन से मुक्त कराया जाए। जिससे यहां आने वाले श्रद्धालुओं को साफ-सफाई दिखे।

मानव श्रृंखला बनाकर दिया संदेश
हर वर्ष देश-विदेश से लाखों श्रद्धालु वृंदावन आते हैं, लेकिन गंदगी देख उनके जहन में यहां की नकारात्मक छवि बनती है। इसी को ध्यान में रखते हुए ब्रज विकास बोर्ड द्वारा जन जागरूक अभियान चलाया गया। जिसमें ब्रज विकास तीर्थ बोर्ड के उपाध्यक्ष शैलजा कांत मिश्र, जिलाधिकारी अरविंद मलप्पा बंगारी और तमाम प्रशासनिक अफसरों ने हिस्सा लिया। जन जागरूक अभियान में जिले के 11000 स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया। इन्होंने विशाल मानव श्रृंखला बनाकर लोगों से पॉलीथिन मुक्त सुंदर वृंदावन बनाने की अपील की। इस दौरान स्टूडेंट्स ने लोगों से पॉलीथिन का प्रयोग करना बंद करने को कहा। साथ ही पॉलीथिन से होने वाले नुकसानों के बारे में बताया।

हिरणकश्यप जैसी है पॉलीथिन
इस मौके पर ब्रज विकास तीर्थ बोर्ड के उपाध्यक्ष शैलजा कांत मिश्र ने कहा कि जिस तरह से हिरणाकश्यप हो गया था जो कि मारे से नहीं मरता था। वैसे ही ये पॉलीथिन हो गयी है। मारे से नहीं मरती है। इस हर जगह प्रदूषण फैल रहा है। पॉलीथिन मुक्त वातावरण के लिए सभी लोगों के सहयोग की जरुरत है।

पॉलीथिन मुक्त हो वृन्दावन
जिलाधिकारी मथुरा अरविन्द मलप्पा बंगारी ने कहा कि अब वृंदावन में पूरी तरह से पॉलीथिन बंद है। उन्होंने कहा कि जो भी व्यक्ति बाजार के लिए सामान खरीदने के लिए निकलने तो अपने घर से कपड़े का थैला जरूर लेकर जाए और वृंदावन को पॉलीथिन मुक्त बनाये।

मुकेश कुमार
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned