तोगड़िया की मोदी सरकार को चेतावनी, सुधर जाओ नहीं तो दो सीटों पर सिमट कर रह जाओगो

तोगड़िया की मोदी सरकार को चेतावनी, सुधर जाओ नहीं तो दो सीटों पर सिमट कर रह जाओगो

Amit Sharma | Publish: Sep, 10 2018 04:08:15 PM (IST) Mathura, Uttar Pradesh, India

अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि हिन्दू अभी जिंदा है और राम मंदिर अवश्य बनेगा।

मथुरा। अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने गोवर्धन में मानसी गंगा, मुकुट मुखारविंद मंदिर पर गिरिराज महाराज की पूजा अर्चना की। इसके बाद पत्रकारों बात करते हुए उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। तोगड़िया ने कहा कि वोटों के लिए बिना छत के बैठे हैं अयोध्या में भगवान राम। तोगड़िया ने कहा कि गोवर्धन व काशी में हिन्दू मंदिरों को नहीं तोड़ने देंगे। गो रक्षकों को गुंडा और गो हत्या करने वालों को सम्मान दिया जा रहा है।

हिन्दू अभी जिंदा है

राधाकुंड परिक्रमा मार्ग पर सांवरिया बाबा के श्रीराधा दामोदर आश्रम में हिन्दूवादी नेता प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि जिन हिन्दुओं ने भाजपा को सत्ता में धर्म की रक्षा के लिए भेजा, वही सरकार मंदिरों को तोड़ने में लगी है लेकिन अब ऐसा नहीं होने दिया जाएगा। गोवर्धन व काशी में मंदिर व गोशालाओं को नहीं तोड़ने दिया जाएगा। राम मंदिर के नाम पर वोट की राजनीति कर इन्होंने भगवान राम को बिना छाता के गरीब बनाकर खुले आसमान में बैठा दिया गया।

राम मंदिर जरूर बनेगा

भाजपा समझ रही है कि हिन्दुओं को उसकी जरूरत है लेकि उसका सोचना गलत है, उसको हिन्दुओं की जरूरत है। अब वह ज्यादा दिन दूर नहीं जब भाजपा दोबारा से केन्द्र में दो सीटों पर सिमटकर रह जाएगी। हिन्दुओं की रक्षा करनी है तो अयोध्या में राम मंदिर बनाओ, कश्मीर में हिन्दुओं की घर वापसी करो, गाय की रक्षा करो नहीं तो छह महीने बाद परिणाम भुगतने के लिए तैयार हो जाओ। उन्होंने कहा कि हिन्दू अभी जिंदा है और राम मंदिर अवश्य बनेगा। इसके लिए हिन्दू शेर जाग गया है और 21 अक्टूबर से लखनऊ से अयोध्या तक राम मंदिर यात्रा निकाली जाएगी।

दो सीटों पर सिमट जाएंगे

गिरिराज महाराज की तलहटी में शासन-प्रशासन द्वारा तोड़े जा रहे मंदिरों पर तोगड़िया ने कहा कि राम मंदिर बना नहीं सकते और अब मंदिरों को तोड़ने में लगे हैं। काशी के बाद गोवर्धन में मंदिरों को तोड़ा गया है लेकिन अब ऐसा नहीं होने दिया जाएगा। काशी व गोवर्धन में मंदिर व गोशालाओं को नहीं तोड़ने दिया जाएगा चाहे इसके लिए उनको प्राणों की आहुति देनी पड़े। उन्होंने 32 साल के जीवन में हिन्दू धर्म व गाय की रक्षा की है। जब इन लोगों को राम मंदिर कोर्ट के आदेश से बनाना था तो उन मां के लालों को शहीद कर दिया जो कि अयोध्या में राम मंदिर चाहते थे। इनको कश्मीर में पत्थर फेंकने वाले पसंद हैं। इनकी करनी व कथनी को हिन्दू समझ गये हैं। अभी भी वक्त है सुधर जाओ नहीं तो वापसी में वही दो सीटों पर सिमटना पड़ेगा।

Ad Block is Banned