कांग्रेस, रालोद मिला सकते हैं हाथ, जयंत की ज्योतिरादित्य से हुई मुलाकात

कांग्रेस, रालोद मिला सकते हैं हाथ, जयंत की ज्योतिरादित्य से हुई मुलाकात

Amit Sharma | Publish: Feb, 20 2019 09:18:58 PM (IST) Mathura, Mathura, Uttar Pradesh, India

-रालोद को चाहिए ज्यादा सीटें, सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस देने को तैयार।

मथुरा। सपा, बसपा के महागठबंधन में रालोद शामिल है अथवा नहीं यह बात अभी तक कार्यकर्ताओं तक साफ तौर पर नहीं पहुंची है। यही वजह है कि मजबूत जनाधार होने के बाद भी रालोद कार्यकर्ता अभी चुनावी मूड में नहीं आ सके हैं। पार्टी के बड़े नेताओं का भी कमोवेश यही हाल है।

स्थानीय रालोद नेताओं का कहना है कि अभी सब कुछ साफ नहीं है। हम लगातार जनता के बीच काम मर रहे हैं। आलाकमान का जो भी निर्देश होगा उसका पालन किया जाएगा। सूत्रों का कहना है कि वेस्टर्न यूपी के प्रभारी ज्योतिरादित्या सिंधिया ने जयंत चौधरी से 2 बार मुलाकात की है। कांग्रेस ने जयंत को यूपी में 10 और राजस्थान में 1 सीट देने का दिया भरोसा दिया है। पत्रिका से बातचीत में जयंत चौधरी ने इस बात को स्वीकारा भी है। उन्होंने कहा है कि ” हां हमारी मुलाकात हुई है, मुलाकातें तो होती रहती हैं। सपा-बसपा गठबंधन से भी हमारी बात चल रही है। गठबंधन में रहने या कांग्रेस के साथ जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी इस बारे में कुछ नहीं कह सकते। गठबंधन में सीटों को लेकर बात जारी है।

रालोद के लिए मथुरा है अहम

रालोद के मथुरा सीट अहम है क्योंकि यहा से अब तक जयंत चौधरी चुनाव लड़ते रहे हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा की हेमा मालिनी जयंत को हराया था। लेकिन इस बार भी जयंत की मथुरा से चुनाव लड़ने की प्रबल संभावना है। यही वजह से गठबंधन का स्वरूप भी मथुरा सीट को ध्यान में रखकर ही रालोद तय करेगी। वैसे भी मथुरा रालोद का मिनी मुख्यालय कहा जाता है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned