मुफ्त बिजली कनेक्शन लेने का एक बार फिर मिल सकता है ‘सौभाग्य’

मुफ्त बिजली कनेक्शन लेने का एक बार फिर मिल सकता है ‘सौभाग्य’

Amit Sharma | Updated: 14 Jul 2019, 07:19:48 PM (IST) Mathura, Mathura, Uttar Pradesh, India

31 दिसंबर तक बढ़ाई जा सकती है प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य SAUBHAGYA).

केंद्रीय मंत्री आरके सिंह से मिले ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा।

31 दिसंबर 2019 तक सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य SAUBHAGYA) की बढ़ाई जा सकती है तिथि।

मथुरा। प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य SAUBHAGYA) के तहत मुफ्त बिजली कनेक्शन लेने से चूके उत्तर प्रदेश के बिजली उपभोक्ताओं को एक बार फिर यह मौका मिल सकता है। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने पत्रिका से बातचीत के दौरान बताया कि इस संबंध में केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वंतत्र प्रभार) विद्युत, नवीन एवं नवीकरीणय ऊर्जा आरके सिंह को एक मांग पत्र भी सौंपा है जिस पर सकारात्मक आश्वासन मिला है। 31 दिसंबर 2019 तक सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य SAUBHAGYA) की तिथि बढ़ाई जा सकती है।

यह भी पढ़ें- योगी सरकार के रडार पर घोटालेबाज, जल्द होंगे सलाखों के पीछे: श्रीकांत शर्मा

यह भी पढ़ें- उड़न खटोले से होगी गोवर्धन परिक्रमा, जानिए टाइमिंग और किराया

करीब 10 लाख से अधिक हैं इच्छुक

ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने हर घर में बिजली पहुंचाने के उद्देश्य से बीते 25 सितम्बर 2017 को पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य SAUBHAGYA) लांच की थी। 31 मार्च 2019 तक प्रदेश में इस योजना के अंतर्गत करीब 80 लाख लोगों को बिजली कनेक्शन दिए गए। योजना सामाप्त होने के बाद करीब 10 लाख ऐसे लोग जो इस योजना का लाभ लेने छूट गए उन्होंने भी सौभाग्य के अंतर्गत कनेक्शन लेने की इच्छा व्य़क्त की गई है। लोगों की मांग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए बीती 26 जून को उन्होंने केंद्रीय मंत्री आरके सिंह से मुलाकात कर सौभाग्य की तिथि 31 दिसंबर 2019 तक बढ़ाए जाने की मांग रखी। ऊर्जा मंत्री के मुताबिक केंद्रीय मंत्री की तरफ से इस पर सकारात्मक आश्वासन दिया है।

यह भी पढ़ें- ‘यूपी में कृषि सिंचाई व्यवस्था होगी पूरी तरह डीजल पंपसेट फ्री, तीर्थ स्थलों को ओवरहेड बिजली केबल से मुक्ति’

भव्य होगी जन्माष्टमी

इसके साथ ही ऊर्जा मंत्री ने जन्माष्टमी (Krishna Janmashtami) की तैयारियों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि, कन्हा की जन्मस्थली में जन्माष्टमी Krishna Janmashtami 2019 भव्य होगी। प्रदेश सरकार इसकी तैयारियों में जुट गई है। ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा जन्माष्टमी की तैयारियों का खुद जायजा ले रहे हैं। शनिवार को दो दिवसीय दौरे पर मथुरा पहुंचे ऊर्जा मंत्री ने मुड़िया मेला की व्यवस्थाओं का जायजा लिया तो वहीं जन्माष्टमी से पहले किए जाने वाले कार्यों को तय समय पर पूरा करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि मथुरा भगवान कृष्ण की जन्मस्थली और पूर ब्रज क्रीड़ा स्थली है। इसलिए ब्रजवासियों के लिए कृष्ण जन्माष्टमी सबसे खास पर्व होता है। सरकार की मंशा है कि कृष्ण जन्माष्टमी अयोध्या की दीपोत्सव की तर्ज पर भव्य हो। इसकी तैयारियों जारी हैं।

तैयारियों के बारे में जानकारी देते हुए ऊर्जा मंत्री ने कहा कि सभी विभागों को निर्देश दे दिए गए हैं लगातार रिव्यू किया जा रहा है। नगर निगम सफाई व्यवस्था पर लगा हुआ साथ ही बिजली विभाग और ब्रज तीर्थ विकास परिषद भी तैयारियों में लगा हुआ है। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि सरकार की स्पष्ट मंशा है कि हमारे धार्मिक सांस्कृतिक आयोजनों की महत्ता कम न हो पाए। ब्रज में होली, कृष्ण जन्माष्टमी, गोवर्धन पूजा खास पर्व माने जाते हैं। सरकार इन त्यौहारों को भगवान कृष्ण की जन्म स्थली पर खास बनाने के लिए प्रतिबद्ध है।

यह भी पढ़ें- जब बृज के छोरा बन गए ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, देखें वीडियो

भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस
भ्रष्टाचार पर पूछे गए सवाल के जवाब में ऊर्जा मंत्री ने कहा कि भ्रष्टाचार और लापरवाही को लेकर प्रधानमंत्री मोदी की मंशा के अनुरूप 0 टॉलरेंस है। अकेले ऊर्जा विभाग में ही 250 लापरवाह अधिकारी और कर्मचारियों पर कार्रवाई की गई है। 100 करोड़ी से ऊपर के उपकेंद्र जहां लापरवाही मिली है, वहां चेतावनी दी गई है। आगे सख्त कार्रवाई की जाएगी। स्टोर में खरीददारी की जिम्मेदारी तय की गई है, लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है। संविदाकर्मियों के भुगतान में अनियमितता पाई गई, संबंधित लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई की गई। सविंदाकर्मियों को समय पर वेतन देने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि हर घर तक रौशनी पहुंचाने के उद्देश्य से 2024 तक की कार्ययोजना तैयार कर ली गई है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned