मथुरा। महाशिवरात्रि पर कान्हा की नगरी मथुरा भगवान भोले की भक्ति में सराबोर हो गई। श्रीकृष्ण जन्म स्थान से शिव बारात निकाली गई। जिसमें हजारों की संख्या में भक्त शामिल हुए। मथुरा की गलियां बम बम भोले के जयकारों के साथ गूंज उठी। इस दौरान जगह-जगह भंडारे का भी आयोजन किया गया। जहां लोगों से प्रसाद ग्रहण किया।


शिव बारात में भूत, पिशाच, बंदर, भालू के स्वरूप भभूति अपने तन पर लगा कर मस्ती में चले थे। नंदी पर सवार दूल्हा बने शिव का स्वरूप रूप देखकर भक्त अभिभूत हो गए। भगवान शिव गले में विषैले सर्प, हाथ में त्रिशूल और तन पर भस्म लगाकर अपनी जीवन संगनी को बिहाने चले थे। शिव बारात श्रीकृष्ण जन्म स्थान से निकली, जो नगर की सभी गलियों से गुजरी। लोगों ने अपनी अपनी छतों से भगवान शिव के स्वरूप पर फूल बरसाए।


शिव बारात को देखने के लिए जन सैलाब उमड़ पड़ा। बारात का जगह-जगह पर शहरवासियों ने स्वागत कर भंडारे का आयोजन किया। शिव बारात में भाग लेने आये राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष नित्य गोपाल दास महाराज ने कहा कि वो यहां आकर आनंदित महसूस कर रहे हैं।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned