सपा कार्यकर्ताओं ने मनायी स्वामी विवेकानंद की जयंती

- सपा कार्यकर्ताओं ने स्वामी विवेकानंद की जयंती के अवसर पर अपने विचार व्यक्त किये

- सभी नेताओं का माला व पट्टिका व साफा बाँधकर स्वागत किया गया

- स्वामी विवेकानंद ऐसे संत थे जिन्होने अध्यात्म को सामाजिक सरोकारों से जोड़ा था

- राष्ट्रवाद में गरीबों, वंचितो के प्रति त्याग,सेवा और समर्पण को प्राथमिकता

By: arun rawat

Updated: 12 Jan 2021, 05:29 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क


मथुरा. स्वामी विवेकानंद की जयंती के मौके पर 'युवा घेरा' कार्यक्रम में नौजवानों ने विवेकानंद की तस्वीर पर माल्यार्पण कर मनाया। सपा कार्यकर्ताओं ने स्वामी विवेकानंद की जयंती के अवसर पर अपने विचार व्यक्त किये। सपा कार्यकर्ताओं ने कहा की स्वामी जी देश के रोज़गार के घटते अवसर बढ़ती बेरोज़गारी,महंगी शिक्षा,छात्र संघ के चुनावों पर रोक,ऑनलाइन शिक्षा की दिक्कतें,छात्रों पर फर्जी आपराधिक मुकदमों के साथ बदहाल कानून व्यवस्था को लेकर वर्तमान सरकार पर निशाना साधा। सभी नेताओं का माला व पट्टिका व साफा बाँधकर स्वागत किया गया।

 

मंगलवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर स्वामी विवेकानंद जयंती के उपलक्ष्य में जयसिंहपुरा खादर मथुरा में 'युवा घेरा कार्यक्रम के अतंर्गत युवाओं से संबधित समस्याओं पर चर्चा की गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पूर्व जिला अध्यक्ष तुलसी राम शर्मा ने कहा छात्रों-नौजवानों की भागीदारी बड़े स्तर पर हो। स्वामी विवेकानंद ऐसे संत थे जिन्होने अध्यात्म को सामाजिक सरोकारों से जोड़ा था। राष्ट्रवाद में गरीबों, वंचितो के प्रति त्याग,सेवा और समर्पण को प्राथमिकता थी उन्होने विश्व में भारतीय ज्ञान, संस्कृति एवं गौरव का बोध कराया। वही सपा लोहिया वाहिनी के महानगर अध्यक्ष मुन्ना मलिक, व कार्यक्रम संयोजक अन्नू भाई ने कहा स्वामी विवेकानंद जी मानते थे कि सांप्रदायिकता,कट्टरता और इसके वंशजों के धार्मिक दृढ़ ने लंबे समय से इस धरती को जकड़ रखा है। उन्होंने दुनिया को सहिष्णुता और सार्वभौमिक स्वीकृति का पाठ सिखाया था।

 

यूथ ब्रिगेड के महानगर अध्यक्ष सतीश पटेल व यूथ ब्रिगेड के जिला महासचिव सैय्यद शाहिद अल्वी ने कहा रोजगार के घटते अवसर, बढ़ती बेरोजगारी, मंहगी शिक्षा, छात्रसंघ के चुनावों पर रोक, आनलाइन शिक्षा की दिक्कतें , छात्रों पर फर्जी अपराधिक मुकदमों के साथ बदहाल कानून व्यवस्था में बहन बेटियों के साथ बढ़ती घटनाएं हो रही हैं आने वाले विधानसभा के चुनाव में उत्तर प्रदेश के नौजवान भारतीय जनता पार्टी की सरकार को उखाड़ फेंकने का काम करेंगे।

 

मुख्य रूप से मुरारी लाल कटारा, मुनव्वर हुसैन ,आरिफ कुरैशी,अजलान,इस्लाम,सलीम खान. अन्नू भाई. अफजाल साहिल कुरैशी। शाहिद मदनी,शाहिद मलिक, पवन खंडेलवाल, सलीम मंसूरी, इमरान अब्बास, आसिफ कुरैशी, सोहन भाई, अख्तर भाई ,जीशान कुरैशी, अनिल शौकर, आशु भारद्वाज, इमरान फारूकी आदि उपस्थित रहे।

By - Nirmal Rajpoot

arun rawat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned