यूपी के मुख्य सचिव की फेसबुक आईडी हैक कर पैसे मांगने के मामले में तीन गिरफ्तार

Highlights

  • आईडी हैक करके फेसबुक दाेस्तों से मांगे पैसे
  • पुलिस ने तीन लाेगाें काे हिरसात में लिया है
  • अब इन ठगों का नेटवर्क खंगाल रही पुलिस

By: shivmani tyagi

Updated: 26 Oct 2020, 09:15 AM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क मथुरा। हैकर्स ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव की फेसबुक आईडी भी हैक कर ली और एमरजेंसी बताकर उनके फेसबुक फ्रेंड्स से पैसे मांग लिए। बड़े अफसर की फेसबुक आईडी हैक हुई तो पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया। पुलिस ( Mathura Police ) समेत एसटीएफ ( UP STF ) भी सक्रिय हो गई। इस मामले ( cyber crime ) में एसटीएफ ने मथुरा के गांव मंडोरा में छापा मारकर तीन लाेगाें काे हिरासत में लिया है। बताया जा रहा है कि पकड़े गए तीनाें आराेपियाें में एक नाबालिग भी शामिल है।

यह भी पढ़ें: गिरफ्तारी से बचने के लिए नवाजुद्दीन सिद्दीकी काे हाईकोर्ट से मिला स्टे ऑर्डर

साइबर ठगों ने ठगी का यह नया तरीका इजाद किया है। इस नए तरीके के तहत या ताे किसी व्यक्ति की फेसबुक आईडी काे हैक कर लिया जाता है या फिर यूजर्स के फेसबुक एकाउंट से पूरी जानकारी हांसिल करने के बाद फाेटाे अफलाेड कर उसी के समानांतर एक नया फेसबुक अकाउंट बना लिया जाता है। इसके बाद नए फेसबुक एकाउंट से यूजर्स के सभी फेसबुक फ्रेंड्स काे रिक्वेस्ट भेजकर उनसे पर्सनल चैट की जाती है। इस दाैरान एमरजेंसी बताकर पैसाें की मांग की जाती है।

यह भी पढ़ें: यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ के मौसा का निधन, घर पर ही ली अंतिम सांस

इन्हीं हैकर्स ने अब उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी की फेसबुक आईडी को हैक कर लिया और उनके फेसबुक दाेस्तों को मैसेज भेजकर उनसे पैसों की मांग कर ली। पुलिस और एसटीएफ की टीम ने इस मामले में गोवर्धन क्षेत्र के गांव मंडोरा में छापेमारी करके दो युवकों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि जिन तीन आराेपियाें काे एसटीएफ ( STF ) ने हिरासत में लिया है उनमें एक किशोर अपचारी भी है।

यह भी पढ़ें: कवयित्री ने नवमी के दिन किया सुसाइड, लॉकडाउन में हुई थी शादी

एसटीएफ की टीम अब इनसे पूछताछ कर रही है। पकड़े गए आराेपियाें ने अपने नाम नाम शराफत खान और सुखदीन खान बताए हैं। मथुरा एसएसपी डॉक्टर ग्राैवर ने कहा है कि तीन लाेगाें काे हिरासत में लिया गया है। इनसे पूछताछ की जा रही है। कई नाम सामने आई हैं अब इस पूरे नेटवर्क काे पता लगाने के लिए पुलिस टीमें लगाई गई हैं।

Show More
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned