यमुना एक्सप्रेस वे पर पुलिसकर्मियों को मिली लावारिस बंदूक

यमुना एक्सप्रेस वे पर पुलिसकर्मियों को मिली लावारिस बंदूक

Amit Sharma | Publish: Jul, 16 2019 09:23:43 PM (IST) | Updated: Jul, 16 2019 09:25:59 PM (IST) Mathura, Mathura, Uttar Pradesh, India

-यमुना एक्सप्रेस वे पर सुनसान क्षेत्र में इस तरह बंदूक मिलना संदेह पैदा कर रहा है।

-आखिर किस गुनाह की थी तैयारी

मथुरा। यमुना एक्सप्रेस वे अपराधियों के लिए नया ठिकाना बनता जा रहा है। लूटपाट, हत्या जैसे जघन्य अपराधों के लिए एक्सप्रेस वे चर्चा में रहता है। एक्सप्रे स वे पर लावारिस बंदूक मिलने से एक बार फिर कई सवाल उठ रहे हैं। अपराधी अपराध करने के लिए इस बंदूक का प्रयोग करते होंगे। इससे इस बात की भी आशंका जताई जा रही है कि एक्सप्रेस वे पर कुछ पेशेवर अपराधी लगातार वारदातों को अंजाम दे रहे हैं और हथियारों को भी एक्सप्रेस वे की झड़ियों में ही छुपा जाते हैं जिससे कि लाने ले जाने में पकड़ में नहीं आएं।

यह भी पढ़ें- मुड़िया मेलाः भीड़ के दबाव में बिखरीं व्यवस्थाएं

यूपी 100 पुलिस की पीआरवी वेन मंगलवार सुबह यमुना एक्सप्रेस वे पर नियमित गश्त करती हुई मांट टोल से नौहझील की ओर जा रही थी। थाना सुरीर क्षेत्र में माइल स्टोन 86 के समीप पीआरवी में तैनात पुलिसकर्मी गाड़ी को किनारे खड़ा कर लघुशंका को उतर गए। इस दौरान उन्हें एक्सप्रेस वे के किनारे कंटीले तारों के नीचे बनी पानी की निकासी को बनी नाली में बंदूक दिखाई दी। पुलिस कर्मियों ने नीचे उतर कर बंदूक को कब्जे में ले लिया। उन्होंने बंदूक की जानकारी के लिए आसपास देखा तो कोई दिखाई नहीं दिया। पीआरवी पुलिस कर्मियों ने एक्सप्रेस वे पर अवैध बंदूक बरामद होने की सूचना अपने अधिकारियों समेत थाना सुरीर पुलिस को दी।

यह भी पढ़ें- Mudiya Mela गिरिराज परिक्रमा कर मुड़िया संतों ने किया श्रीपाद सनातन गोस्वामी को याद, देखें वीडियो

एसआई जसवंत सिंह हमराह पुलिस कर्मियों के साथ मौके पर पहुंच गए। जहां पीआरवी कर्मियों ने बरामद बंदूक को उनके सुपुर्द कर दिया। बताया गया है कि बंदूक जंगली जानवरों का शिकार करने वाली है। इसमें गोली नहीं गंधक पोटाश भरकर चलाया जाता है। अब सवाल उठता है कि इस बंदूक को यमुना एक्सप्रेस वे के किनारे किस उद्देश्य से छिपाया गया है। लोगों को शक है कहीं यमुना एक्सप्रेस वे पर लूटपाट के उद्देश्य से डराने-धमकाने के लिए तो तो कहीं इस बंदूक को लुटेरे छिपा कर तो नहीं रख गए। यमुना एक्सप्रेस

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned