‘आतंक की फैक्ट्री’ पर लगेगा ताला, आर-पार की लड़ाई के लिए सेना तैयार: ऊर्जामंत्री

श्रद्धांजलि देने पहुंचे ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि शहीद पंकज की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी, अब ईंट का जवाब पत्थर से दिया जाएगा।

मथुरा। जम्मू कश्मीर के बड़गांव में हुए विमान हादसे में मथुरा के लाल पंकज नौहवार शहीद हो गए। पंकज नौहवार का पार्थिव शरीर जैसे ही मथुरा पहुंचा हजारों की संख्या में लोग श्रद्धांजलि देने उमड़े। इससे पहले गुरुवार को ही प्रदेश के ऊर्जामंत्री खेरिया हवाई अड्डे पर पंकज नौहवार को श्रद्धांजलि देने पहुंचे। यहां से वह शहीद को अंतिम विदाई देने मथुरा पहुंचे। यहां ऊर्जामंत्री ने पाकिस्तान के प्रति आक्रोश जाहिर किया। ऊर्जामंत्री ने कहा कि विमान क्रैश में उत्तर प्रदेश के तीन जांबाज शहीद हुए हैं। शहीदों के परिवार के साथ सरकार हर हाल में खड़ी है। साथ ही आतंक की फैक्ट्री हर हाल में बंद होगी।

पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे
शुक्रवार की सुबह शहीद पंकज नौहवार का पार्थिव शरीर मथुरा के बालाजी पुरम स्थित सारंग विहार कॉलोनी में उनके निवास स्थान पर लाया गया। शहीद पंकज के अंतिम दर्शन के लिए हजारों की संख्या में लोग मौजूद रहे। शहीद पंकज के पार्थिव शरीर को बालाजी पुरम स्थित निवास पर तकरीबन 20 मिनट रोका गया और यहां से अंतिम दर्शन के बाद उनके पार्थिव शरीर को उनके पैतृक गांव जरेलिया ले जाया गया वहां उनका अंतिम संस्कार किया गया। पंकज की शव यात्रमें पाकिस्तान मुर्दाबाद के जमकर नारे लगे।

Shaheed

ईंट का जवाब पत्थर से

श्रद्धांजलि देने पहुंचे ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि शहीद पंकज की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी, सेना को खुली छूट दे दी गई है अब ईंट का जवाब पत्थर से दिया जाएगा।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned