World Blood Donor Day: कई बीमारियों से आपको बचाता है रक्तदान यकीन न हो तो पढ़ लीजिए ये खबर!

suchita mishra | Updated: 14 Jun 2019, 02:03:00 PM (IST) Mathura, Mathura, Uttar Pradesh, India

रक्तदान अभियान मंच (राम) के संस्थापक संयोजक किशोर "स्वर्ण" 14 जून विश्व रक्तदाता दिवस के उपलक्ष्य में रक्तदान हेतु जागरूकता फैला रहे हैं।

मथुरा। आपका दान किया रक्त किसी की जिंदगी बचाएगा, सचमुच आपका यही काम पुण्य कहलाएगा। मानवता के हित में नेक काम कीजिए, पास के रक्तदान शिविर में भाग लीजए। ये आह्वान रक्तदान अभियान मंच (राम) के संस्थापक संयोजक किशोर "स्वर्ण" ने किया है। वह 14 जून विश्व रक्तदाता दिवस के उपलक्ष्य में रक्तदान हेतु जागरूकता फैला रहे हैं।

गंभीर रोगों से बचाता है रक्तदान
किशोर "स्वर्ण" ने कहा कि 14 जून को रक्तदाता दिवस है। आज आप रक्तदान जरूर करें। रक्तदान करने से सिर्फ दूसरों का ही भला नहीं होता, बल्कि ये रक्तदाता को भी कैंसर, स्‍ट्रोक और हृदय रोग जैसी कई बीमारियों से भी बचाता है। उन्होंने कहा कि जैसे धर्म स्थलों पर जाने से आत्म शांति मिलती है, ऐसे ही रक्तदान से आत्मिक आनंद की अनुभूति होती है। रक्तदान मानव धर्म है।

हर दान से बढ़कर रक्तदान
रक्तदान के प्रेरक किशोर "स्वर्ण" ने कदम्ब विहार तथा धौली प्याऊ में लोगों को रक्तदान के लिए जागरूक किया। उन्होंने कहा कि हर दान से बढ़कर श्रेष्ठ है रक्तदान, क्योंकि जब हम अपना रक्त दान करते हैं, तब हम जीवन से संघर्ष करने वाले एक पीड़ित इंसान की जान बचाते हैं। इसलिए रक्तदान करके किसी के चेहरे पर मुस्कान लाने का नेक काम जरूर करें।

रक्तदान कर फर्ज निभाएं
किशोर "स्वर्ण" ने कहा कि महर्षि दाधीचि ने देवों को बचाने के लिए अपनी हड्डियों का दान कर दिया था। शिबि ने कबूतर को बचाने के लिए अपनी जांघ का मांस दान कर दिया था। भामाशाह ने देश को बचाने के लिए अपना सर्वस्व दान कर दिया था। देश की सीमा पर जांबाज जवान हमें सुरक्षित रखने को सिर्फ अपना खून ही नहीं बहाते, बल्कि अपने प्राण तक कुर्बान कर देते है, तो क्या हम किसी की जान बचाने के लिए अपना एक यूनिट रक्त भी दान नहीं कर सकते। आओं रक्तदान करके हम अपना फर्ज निभाए।

छह साल से चला रहे अभियान

मथुरा में रक्तदान के प्रेरक के रूप में प्रसिद्ध उत्साही युवा किशोर "स्वर्ण" ने छह वर्ष पूर्व "रक्तदान अभियान मंच" (राम) बनाकर रक्तदान की अलख जगाई। मथुरा में रक्तदान जागरूकता रैली निकालने का श्रेय किशोर "स्वर्ण" को ही जाता है, उनकी प्रेरणा से अब तक दो हजार से ज्यादा लोग रक्तदान कर चुके है, इसके लिए उन्हें कई बार सम्मानित भी किया जा चुका है। किशोर "स्वर्ण" ने बताया कि उन्हें यह प्रेरणा निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज से मिली, वह कहा करते थे "रक्त नालियों में नहीं, नाड़ियों (रगों) में बहे" । बाबा हरदेव जी का कहना था कि रक्तदान से अनजाने लोगों से खून का रिश्ता जुड़ता है।

दे रहे हैं प्रेरणा
आजकल "राम" संयोजक किशोर "स्वर्ण" विभिन्न स्थानों पर "रक्तदान अभियान मंच का नारा है, रक्तदान करना फर्ज हमारा है" , "करें रक्तदान-दें जीवनदान" आदि स्लोगन लिखे पर्चे बांट लोगों को रक्तदान की प्रेरणा देते हैं। धौली प्याऊ के व्यापारी राजेंद्र चावला ने रक्तदान के प्रेरक "राम" संयोजक किशोर "स्वर्ण" के उत्साह की प्रशंसा करते हुए रक्तदान को हर किसी के लिए आवश्यक बताया। वहीं कदम्ब विहार वार्ड 29 के पार्षद सुमित वर्मा ने कहा कि रक्तदान महादान है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned