योगी राज में नशे में धुत शराबी दरोगा का तांडव, परेशान बीजेपी नेता बैठे अनशन पर   

शराबी दारोगा का ताडवं...​

मऊ. 
स्वच्छ भारत अभियान और नशा मुक्ति के लिए मोदी और योगी सरकार लगातार कटिबद्ध है, लेकिन इनके सरकारी अधिकारी कर्मचारी किस तरह से मोदी योगी के सपनों को तार-तार कर रहे हैं, उसकी बानगी मऊ जिले के थाना कोपागंज में देखने को मिली।




जहाँ थाना कोपागंज के कस्बा पुलिस चौकी पर तैनात दारोगा नजरे अब्बास शराब के नशे में धुत होकर अतिक्रमण हटवा रहे थे। उसी समय कुछ लोगो को गाली गलौज और डन्डे से मारने लगे। साथ ही दारोगा ने एक पत्रकार को गाली देते हुए उन्हें गिरफ्तार कर थाने ले गये और थाने के लाकअप में बन्द कर पिटाई कर दी।


जिससे पत्रकार गम्भीर रुप से घायल हो गया। हालांकि पत्रकार की गिरफ्तारी की बात जैसे ही स्थानीय सासंद को लगी, हरीनाराण राजभर रात में थाने पर पहूँच गये और लिपापोती करनेवाले पुलिस अधिकारियों को जमकर फटकारा। इसी बिच सासंद को पता चला कि शाराबी दारोगा के कमरे मे शराब और सिगरेट की बोतले पड़ी हुयीं हैं, तो उन्होंने कहा कि वो थाने का निरिक्षण करेगें। सासंद ने कहा कि वो दारोगा का कमरा चेक करेंगे तो पुलिस वालों के हांथ पांव फूल गये और वो मामले को रफा दफा करने में जुट गये। लेकिन सासंद जी अड़ गये और थाने में दारोगा के कमरे के बाहर धरने पर बैठ गये। जिसके बाद घोसी सर्किल सीओ रवीन्द्र कुमार सिहं ने दारोगा का कमरा खुलवाया जिसमें शराब और सिगरेट की बोलते मिली। फिलहाल सासंद ने दरोगा के खिलाफ कार्यवायी का आदेश सीओ को दे दिया है।​


ज्योति मिनी
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned