आंगनबाड़ी सहायिकाओं का फूटा गुस्सा, कहा- नहीं पूरी होंगी मांगे तो अनवरत जारी रहेगा आमरण अनशन

Sarveshwari Mishra

Publish: Dec, 08 2017 01:43:02 (IST)

Mau, Uttar Pradesh, India

मऊ. प्रदेश की बीजेपी सरकार ने 2017 के विधानसभा चुनाव में अपने संकल्प पत्र में आगनबाड़ी महिला कार्यकर्ताओं के मानदेय को बढ़ाने का वादा किया था कि सरकार बनने के 120 दिन अन्दर उनका मानदेय बढ़ा दिया जाएगा और उन्हें राज्य कर्मचारी का दर्जा देने का काम किया जाएगा । लेकिन सरकार बने हुए आठ माह पूरे होने के बाद भी इन आगनबाड़ी कार्यकत्रियों वही हाल है न इनका मानदेय बढ़ाया गया है और न ही इन्हे राज्य कर्मचारी का दर्जा दिया गया है। सरकार ने अभी तक कोई आदेश नही दिया ।

 

 

बतादें कि महिला आगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने सरकार के 120 दिन के वादे के मुताबिक छ: माह तक चुप रही है। छ: माह से सरकार के फैसले के इंतजार में बैठी कार्यकत्रियों ने देखा कि उनके हक में सरकार का अब तक कोई फैसला नहीं आया है तो महिला आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां आंदोलित होकर मशाल जुलूस निकालकर धरना प्रदर्शन किया। जिसको देखते हुए पिछले डेढ माह से लगातार महिला आगनवाडी आन्दोलित होकर लगातार सरकार के खिलाफ नारे बाजी कर रही है ।

 

 

बतादें कि हालाकि पिछले 42 दिनों तक लगातर आन्दोलित रहने वाली महिला आगनबाड़ी कार्यर्ताओं ने निकाय चुनाव को देखते हुए बीच में अपने धरना प्रदर्शन को स्थगित कर दिया था। लेकिन निकाय चुनाव की अधिसूचना खत्म होते ही महिला आगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने सिटी मजिस्ट्रेट को पत्रक देकर अवगत कराया है कि जब तक उनकी मांगे सरकार नहीं मानती है तब तक उनका धरना प्रदर्शन अनवरत जारी रहेगा । उनका कहना है कि पहले हमारा धरना सांकेतिक रहेगा फिर उसके बाद में हम आगनबाड़ी कार्यकर्ता आमरण अनशन शुरु करेंगे। सिटी मजिस्ट्रेट को पत्रक देने पहुंची सैकडो महिला आगनबाड़ी कार्यकर्ताओ सरकार के खिलाफ में जमकर नारेबाजी किया ।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned