पुलिस फोर्स पर दबंगों ने भांजी लाठियां, एसएचओ समेत 12 सिपाही घायल

कब्जे की जमीन हटवाने आए थे पुलिसकर्मी

By: sarveshwari Mishra

Published: 11 Dec 2017, 02:10 PM IST

Mau, Uttar Pradesh, India

मऊ. सरायलखन्सी थाना क्षेत्र के सरया रघुनाथपुरा गांव में दबंगों ने पुलिस फोर्स पर ईंट- पत्थर, लाठी-डंडों से हमला कर दिया। जिसमें एसएचओ समेत आधा दर्जन पुलिस कर्मी घायल हो गए। इनके बीच आए ग्रामीण भी घायल हुए है। रघुनाथपुरा में सरकारी जमीन पर वर्षों से कब्जा जमाए बैठे दबंगों से कब्जा हटवाने के लिए राजस्व टीम के अधिकारियों में तहसीलदार ,नायब तहसीलदार, लेखपाल, काननूगो पूरी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंची थी। पुलिस फोर्स द्वारा जमीन का कब्जा हटवाना दबंगों को नागवार लगा। जिसपर वे पुलिस फोर्स पर हमला कर दिए। पुलिस ने 12 से अधिक पुलिसकर्मियों सहित ग्रामीणों पर हमला करने क मामले में दबंगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

 

 

बतादें कि घायलों का प्राथमिक उपचार किया जा रहा है । पुलिस ने एक दर्जन लोगों और पुलिस टीम पर हमला करने वाले दबंगो पर मुकदमा दर्ज कर दिया है । पूरा मामला है रघुनाथपुरा गांव की सरकारी जमीन पर आगंनबाड़ी केन्द्र बनाने का प्रस्ताव था जिस पर गांव के ही दंबगो का वर्षों से कब्जा था जिसे हटवाने के लिए कई बार ग्राम प्रधान द्वारा एसडीएम से मामले में प्रार्थना पत्र दिया गया। मामले की गम्भीरता को देखते एसडीएम ने आज गांव की सरकारी जमीन से दंबगों का कब्जा हटवाने के लिए एसडीएम ने तहसीलदार नायब तहसीलदार, लेखपाल, कानूनगों को भेजा वहीं साथ ही में भारी मात्रा में पुलिस बल को भी भेजा गया।

 

 


गांव में जैसे ही राजस्व टीम और पुलिस फोर्स अतिक्रमण हटवाने के लिए पहुंचा तो दबंगो ने हमाला कर दिया । जिसमें एसएचओ समेत कई पुलिस जवान घायल हुए साथ में कई गांव वाले भी घायल हुए हैं । हालांकि इस मामले में पुलिस एक दर्जन लोगों पर मुकदमा पंजीकृत कर दिया है ।

 

 

ग्राम प्रधान ने बताया कि आगनबाड़ी केन्द्र का निर्माण हो रहा था यह जमीन आगनबाड़ी केन्द्र के नाम पर 45 एयर स्वीकृति हुई है। जिस पर मै तीन दिन पहले आगनबाड़ी केन्द्र का निर्माण कराना शुरु किया था। कुछ दंबगों का नाम एसडीएम साहब को बताया था कि इन्होंने इस काम को रोक दिया है। उसके बाद काम रोक दिया गया और साथ दिनांक तीन को एसडीएम महोदय को लिखित आवेदन दिया था।
जिस पर उन्होने आदेश दिया तहसीलदार महोदय और एसएचओ महोदय को कि इस मामले को फोर्स लेकर मामले का निस्तारण करे । बीच में फोर्स उपलब्ध नहीं होने के कारण काम रोक दिया था जिसमें आज फोर्स उपलब्ध हुई तो जैसे ही फोर्स ने काम कराना शुरु किया वैसे ही दबगों ने तहसीलदार और फोर्स पर हमला कर दिया । जिसमें एसएचओ महोदय को गम्भीर चोटे आयी है साथ में और भी घायल हुए है । जिसमें नायब तहसीलदार एक महिला कास्टेबल को भी चोट आयी है । पुलिस टीम पर पथराव करने वाले करीब 15 लोग थे जो हमला किए थे ।

वहीं एसएचओ ने बताया कि रघुनाथपुरा सरया गाव में सरकारी जमीन थी जिस पर आगनबाड़ी केन्द्र बनाया जाना था जिसमें एसडीएम साहब द्वारा आवंटित कर दिया गया था जिसकी पूरी फारमेल्टी पूरी हो चुकी थी जिसमें आज नायब तहसीलदार शशिभूषण पाठक और लेखपाल आए और कहा कि फोर्स की जरुरत है तो उनके साथ में फोर्स के साथ मैं खुद मौके पर गया और वहां प्रमोद गुप्ता हैं जिनको पूरा एसडीएम का आदेश दिखाया गया । जिसको वो स्वयं हटा ले इसके साथ उनके ऊपर 52 सौ रुपये का जुर्माना भी लगाया गया था । उसके बाद उन्होंने मना कर दिया कि वे अतिक्रमण नहीं हटायेगें और फोर्स के साथ उलझने लगे नायब तहसीलदार ने कहा कि यह अतिक्रमण हटेगा तभी इसी बीच अध्धा ईंट पंत्थर लाठी डन्डा लेकर मजदूरो और फोर्स पर हमाला शुरु कर दिया जिसमें एक पत्थर आकर मुझे भी लगा इसके साथ ही नायब तहसीलदार महिला कास्टेबल को भी चोट लगी है ।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned