नागरिकता कानून के बारे में फेसबुक पोस्ट करने पर सपा नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मऊ के नगर पालिका चेयरमैन रह चुके हैं वरिष्ठ सपा नेता अरशद जमाल।

मऊ. संसद से बने नागरिकता कानून के खिलाफ लिखना मऊ के पूर्व नगर पालिका चेयरमैन और वरिष्ठ सपा नेता अरशद जमाल को महंगा पड़ गया। उनके फेसबुक पोस्ट के आधार पर पुलिस ने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। अरशद जमाल का कहना है कि उन्होंने कोई ऐसी पोस्ट नहीं की जिस पर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज हो जाए। जबकि पुलिस का कहना है कि यह दूसरे लोगों के लिये भी एक संदेश है कि वह सोशल मीडिया पर अफवाह और अनावश्यक बातें न लिखें, वर्ना कार्रवाई की जाएगी।

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और मऊ नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन अरशद जमाल ने नागरिकता कानून बनने के बाद इसके विरोध में फेसबुक पर एक पोस्ट किया था। इस पोस्ट पर कई लोगों के कमेंट भी आए। पुलिस की मानें तो उन्हें जब शिकायत मिली तो इसका संज्ञान लेकर उन्होंने जांच की और इसमें सत्यता मिलने पर अरशद जमाल के खिलाफ आईपीसी की धारा 505 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया।

उधर अपने खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के बाद अरशद जमाल मीडिया के सामने आए और उन्होंने दावा किया कि उनका पोस्ट ऐसा नहीं जिसपर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया जाय। कहा कि मुझे लगता है कि देश और संविधान की रक्षा करना मुसलमानों की भी उतनी ही जिम्मेदारी है जितनी की दूसरे नागरिकों की। इसी का मैंने आह्वान किया था, जिसमें मुकदमा दर्ज किये जाने जैसा कुछ भी नहीं था।

उधर पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्या ने बताया कि जन कल्याण का ध्यान रखते हुए उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की गयी है। साथ ही चेतावनी भी दी है कि यह संदेश भी है कि सोशल मीडिया पर अफवाह फैलायी या अनावश्यक रूप से कुछ भी लिखा या कमेंट किया तो कार्रवाई की जाएगी।

By Coprrespondence

Show More
रफतउद्दीन फरीद Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned