SC/ST ACT के खिलाफ फूटा गुस्सा, सवर्ण संगठन की 4 सूत्रीय मांग, कहा- नहीं पूरा हुआ तो करेंगे आत्मदाह

SC/ST ACT के खिलाफ फूटा गुस्सा, सवर्ण संगठन की 4 सूत्रीय मांग, कहा- नहीं पूरा हुआ तो करेंगे आत्मदाह

Sarweshwari Mishra | Publish: Sep, 06 2018 04:03:53 PM (IST) Mau, Uttar Pradesh, India

एससी एसटी एक्ट पर जो काला कानून केंद्र सरकार ने पारित किया है हम इसको वापस लेने की मांग करते हैं

मऊ. मऊ में SC/ST एक्ट के विरोध में पीड़ित समाज द्वारा स्वाभिमान बचाओ रैली निकाली गई। रैली में सैकड़ों की संख्या में लोगों ने हाथों में बैनर पोस्टर लेकर केंद्र और प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की । रैली निकालते हुए भारी भीड़ कलेक्ट्रेट पहुंचकर मानव श्रृंखला बनाकर कलेक्ट्रेट का घेराव कर 4 सूत्री मांग पत्र सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा। कहा अगर मांग पूरी नहीं हुई तो आगे आंदोलन और तेज होगा।


यह थी मांग


1-एससी एसटी एक्ट पर जो काला कानून केंद्र सरकार ने पारित किया है हम इसको वापस लेने की मांग करते हैं। माननीय सर्वोच्च न्यायालय में जो निर्णय दिया है उसका पूरे देश में सम्मान होना चाहिए यह हमारी पहली मांग है।


2- फर्जी एससी/एसटी एक्ट किसी पर लगता है तो उसको 10 साल के लिए जेल भेजा जाए।


3-पीड़ित व्यक्ति को अगर न्यायालय से दोषमुक्त किया जाता है, तो उसको एक करोड़ रुपया दिया जाए।


4-एससी/एसटी एक्ट का मुकदमा अगर दर्ज होता है तो तुरंत अग्रिम जमानत दिया जाए।


प्रदर्शनकारियों न कहा कि इन सब बातों को लेकर हम कलेक्ट्री पर आए हैं हमारी बात नहीं मानी जाएगी तो हम जाम करेंगे। जरूरत पड़ी तो आत्मदाह करेंगे। जरूरत पड़ेगी तो जान भी दे देंगे। लेकिन इस काले कानून को हम नहीं मानेंगे। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने बताया कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय को बदलते हुए केंद्र सरकार ने जो दमन कारी कानून एससी एसटी एक्ट मैं सेक्शन 18 में परिवर्तन करके बिना जांच गिरफ्तारी और डीएसपी स्तर से छोटे अधिकारी की जांच और अग्रिम जमानत की व्यवस्था को खत्म कर दिया है। इसके खिलाफ 78 पर्सेंट आबादी में आक्रोश का माहौल है जिस आक्रोश को देखते हुए उसी की यह परिणति है जो अब आंदोलन का रूप ले चुका है अभी यह अंगड़ाई है आगे बहुत लड़ाई है।


हमारे आगे की रणनीति 2019 में केंद्र सरकार का चुनाव है हम 2019 तक इस संघर्ष को लागू करेंगे जब तक कि इस एससी/एसटी एक्ट में संशोधन नहीं कर दिया जाता। सिटी मजिस्ट्रेट हंसराज यादव ने बताया कि 4 सूत्री मांग है एससी एसटी एक्ट के विरोध में सम्मान बचाओ रैली निकाली गई और सोनी धापा के मैदान से होकर कलेक्ट्रेट लोग पहुंचे और मानव श्रृंखला बनाकर इसका विरोध किया और ज्ञापन दिया जो माननीय राष्ट्रपति महोदय को और माननीय प्रधानमंत्री भारत सरकार को और माननीय मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री को संबोधित है इसमें ऐसा-ऐसा शीघ्र उचित कार्रवाई के लिए प्रेषित कर दिया जाएगा।

By- Vijay Mishra

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned