12वीं पास पेटीएम से कर रहा था चोरी, पुलिस ने ऐसे दबोचा

12वीं पास पेटीएम से कर रहा था चोरी, पुलिस ने ऐसे दबोचा
Paytm Payment Bank

sandeep tomar | Publish: Dec, 26 2016 05:13:00 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

12वीं पास आरोपी अपने गैंग के साथ मिलकर कर रहा था साइबर क्राइम

मेरठ। खाताधारकों के एटीएम नंबर हथिया कर पेटीएम से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने वाले गिरोह के दो गुर्गे साइबर सेल ने पकड़े हैं। इनमें एक इंटरपास छात्र है जो मोबाइल रिपेयरिंग की दुकान पर नौकरी करता है और दूसरा बीएससी में पढ़ता है।आरोपी सुहेल निवासी सैफनगर और वाहिद निवासी जाकिर कॉलोनी, थाना लिसाड़ी गेट हैं। इनके पास से दोमोबाइल, फर्जी आईडी पर लिए चार सिम बरामद हुए हैं।

ऐसे ले ली डिटेल

साइबर सेल इंचार्ज कर्मवीर सिंह के मुताबिक, सुहेल को उसके दोस्त वाहिद ने एटीएम कार्ड नंबर से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करना सिखाया। सैफरनगर फतेउल्लापुर रोड निवासी आदिल मलिक अक्सर इन दोनों के साथ पैसे निकालने एटीएम जाता था। इस दौरान सुहेल ने आदिल के एटीएम का नंबर, सीवीवी कोड और वैधता तिथि नोट कर ली। वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) के लिए सुहेल ने आदिल के मोबाइल में एक सॉफ्टवेयर डाउनलोड करने की बात कहकर चंद मिनट के लिए ले लिया और ओटीपी प्राप्त कर लिया। इसके बाद सुहेल ने वाहिद के फोन से इंटरनेट चलाकर आदिल के खाते से दो बार में 10 हजार रुपये निकाल लिए।

ऐसे पकड़ में आए


साइबर सेल इंचार्ज ने बताया, दोनों आरोपियों ने अपने पेटीएम का वॉलेट कुल 21 बार प्रयोग किया। इस बार ये ढाई लाख रुपये की ट्रांजेक्शन दूसरे खाते में करने के प्रयास में थे। आरोपियों ने पेटीएम का एकाउंट वरुण शर्मा नाम से बना रखा था। आरोपियों ने सबसे पहले यह रकम आदिल के खाते से अपने वॉलेट में ट्रांसफर की। इसके बाद अपने वॉलेट से यह रकम एक परिचित के खाते में ट्रांसफर कर दी।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned