कांग्रेस विधायक के करीबी का सिर कलम करने पर 51 लाख का ऐलान, पैगंबर को लेकर की थी आपत्तिजनक पोस्ट

Highlights
- बंगलुरू में एफबी पोस्ट को लेकर उपद्रवियों ने कांग्रेस विधायक के घर की थी तोड़फोड़
- फलावदा के रसूलपुर मुरादनगर गांव के समाजसेवी ने किया इनाम देने का ऐलान
- पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दर्ज की रिपोर्ट, गिरफ्तारी के लिए दो टीमें गठित

By: Rahul Chauhan

Updated: 14 Aug 2020, 11:13 AM IST

मेरठ। बेंगलुरु में कांग्रेस विधायक के करीबी के फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट करने पर भड़की आग अभी ठंडी भी नहीं पड़ी है। इस बीच मेरठ के एक कथित समाजसेवी ने फेसबुक पर पैगंबर मोहम्मद के संबंध में आपत्तिजनक पोस्ट डालने वाले का सिर काटने वाले को 51 लाख इनाम देने का ऐलान किया है। बक़ायदा इसे लेकर उन्होंने एक वीडियो जारी किया है। उधर, पुलिस ने वीडियो वायरल होने के बाद मुकदमा दर्ज कर जाँच शुरु कर दी है।

यह भी पढ़ें: नाैसेना के रिटायर्ट अफसरों ने नाेएडा पुलिस पर लगाए गंभीर आराेप, सीएम से कार्यवाही की मांग

दरअसल, मेरठ के फलावदा थानाक्षेत्र के रसूलपुर मुरादनगर निवासी समाजसेवी शाहजेब रिजवी ने कहा है कि पैगंबर मोहम्मद के बारे में इस तरह के कृत्य से मुस्लिम समाज के लोगों को ठेस पहुंची है। ऐसी बयानबाजी इंसानियत को शर्मसार करने वाली है। आपत्तिजनक पोस्ट डालने वाले का सिर कलम करने वाले को वह 51 लाख रुपये का ईनाम देंगे। धनराशि की व्यवस्था के लिए वे मुस्लिम समाज के लोगों से योगदान करने के लिए भी कह रहे हैं।

रासुका की होगी कार्रवाई

उधर, सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद शाहजेब के खिलाफ धार्मिक उन्माद फैलाने समेत अन्य धाराओं में दारोगा पवन मलिक की तरफ से रिपोर्ट दर्ज की गई है। मामले में एसएसपी अजय साहनी ने कहा है कि किसी को भी माहौल खराब नहीं करने दिया जाएगा। 51 लाख रुपये का ऐलान करने वाले शाहजेब रिजवी के खिलाफ फलावदा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दो टीमें गठित की गई हैं। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: बिल्ली का बच्चा पालने से परिजनों ने किया इनकार तो बच्चे ने कर लिया सुसाइड

एफबी पोस्ट को लेकर बेंगलुरु में भड़की थी हिंसा

ग़ौरतलब है कि कर्नाटक के दलित कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के करीबी बताए जाने वाले पी. नवीन ने फेसबुक पर बीते मंगलवार को पैगंबर मोहम्मद को लेकर एक आपत्तिजनक पोस्ट की थी। इसको लेकर बेंगलुरु में हिंसक भड़क गई थी। मुस्लिम समाज के लोगों ने कांग्रेस विधायक के घर और दो पुलिस थानों में आग लगा दी थी। हिंसा रोकने की कोशिश में करीब 60 पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस फायरिंग में तीन लोगों की मौत भी हुई।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned