scriptAlert of fourth wave of corona in Meerut division | Corona Fourth Wave : मेरठ मंडल में कोरोना को लेकर अलर्ट, गाजियाबाद और नोएडा में हालात बेकाबू | Patrika News

Corona Fourth Wave : मेरठ मंडल में कोरोना को लेकर अलर्ट, गाजियाबाद और नोएडा में हालात बेकाबू

Corona Fourth Wave मेरठ मंडल में कोरोना को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड पर आ गया है। मंडल के गाजियाबाद और नोएडा में कोरोना संक्रमण की बढ़ती दर से हालात बेकाबू हो रहे हैं। मेरठ मंडलीय सर्विलांस अधिकारी ने गाजियाबाद और नोएडा के सीएमओ को चौथी लहर से निपटने के लिए निर्देश दिए हैं। गाजियाबाद एवं गौतमबुद्धनगर के बाद मेरठ में कोरोना संक्रमण मिलने लगे हैं। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन ने कमर कस ली है।

मेरठ

Published: April 26, 2022 10:57:07 am

Corona Fourth Wave कोरोना की चौथी लहर के मददेनजर मेरठ मंडल में स्वास्थ्य विभाग कोविड मैनेजमेंट को नए सिरे से लागू कर रहा है। मंडल के जिलों में आक्सीजन प्लांट और नई सुविधाओं से लैस स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन का आत्मबल कोरोना की चौथी लहर से निपटने के लिए बढ़ा हुआ है। चिकित्सकों की माने तो यह नई लहर ओमिक्रोन की तरह ही हल्की है। लेकिन इसमें डेल्टा वैरिएंट के लक्षण मिलने से स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड पर हैं।
Corona Fourth Wave : मेरठ मंडल में कोरोना को लेकर अलर्ट, गाजियाबाद और नोएडा में हालात बेकाबू
Corona Fourth Wave : मेरठ मंडल में कोरोना को लेकर अलर्ट, गाजियाबाद और नोएडा में हालात बेकाबू

मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि 23 तारीख को गाजियाबाद में 55, गौतमबुद्धनगर में 98 नए कोरोना मरीज मिले थे। मंडल में एक दिन में 154 मरीज अब तक मिले हैं। मेरठ में भी संक्रमितों का आंकड़ा दहाई तक पहुंच रहा है। ऐसे में रैपिड रिस्पांस टीम, सर्विलांस सेल, इंटीग्रेटेड कोविड कमांड सेंटर से लेकर सरकारी एवं निजी कोविड अस्पतालों को अलर्ट कर दिया गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. मनसुख मांडविया ने भी मेरठ में संक्रमण से निपटने की तैयारियों का जायजा लिया था।
यह भी पढ़े : Weather Update Today : आंधी ने शहर से देहात तक मचाई तबाही,आग से 200 वाहन जलकर राख

मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने कोविड मैनेजमेंट को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के समक्ष एक प्रजेंटेशन दिया था। उन्होंने बताया कि अप्रैल से सितंबर 2020 तक पहली और फिर मार्च से जून 2021 के बीच दूसरी लहर ने तबाही मचाई। लेकिन 2022 जनवरी में ओमिक्रोन का संक्रमण बेहद हल्का रहा। अब नई लहर से निपटने के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर को पूरी तरह दुरुस्त कर दिया गया है। बता दें कि पहली और दूसरी लहर में कोरोना ने मेरठ मंडल के तीन जिलों मेरठ,गाजियाबाद और नोएडा में खूब कहर बरपाया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: 16 बागी विधायक अगर फ्लोर टेस्ट में नहीं देंगे वोट तो क्या होगी तस्वीर, यहां जानें पूरा समीकरणMaharashtra Political Crisis: क्या उद्धव ठाकरे के इस फैसले ने बिगाड़ा सारा खेल! NCP की भूमिका पर भी उठ रहे है सवालMaharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज शाम 5 बजे होगी सुनवाईपहले खुलेआम कन्हैयालाल की नृशंस हत्या की धमकी, फिर सिर कलम कर दिया, आतंकियों की करतूतों से मेल खाता है तरीकानवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतMumbai News Live Updates: शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने कहा- 2/3 बहुमत है हमारे पासSecurity To Ambani Family: मुकेश अंबानी की सुरक्षा से जुड़े मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई त्रिपुरा HC के आदेश पर रोकजावेद पंप ने खोला राज, अटाला हिंसा में मौलाना और कई नेताओं के नाम आए सामने
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.