डीजे- हुक्का और भट्टी के साथ भाकियू की ऊर्जा भवन पर चढ़ाई

Highlights

  • भाकियू का हंगामा, जबरन गेट खुलवाकर घुसे किसान
  • पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच धक्का-मुक्की
  • बिजली विभाग पर लगाया अनियमितता का आरोप

By: shivmani tyagi

Updated: 19 Oct 2020, 04:31 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क, मेरठ ( Meerut ) ऊर्जा भवन महापंचायत करने पहुंचे भाकियू ( BKU ) कार्यकर्ताओं की पुलिस से धक्कामुक्की हाे गई। इस दौरान भाकियू के कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया और जबरन गेट खुलवाकर भीतर प्रवेश कर गए। ऊर्जा भवन के भीतर किसान दरी बिछाकर बैठ गए और महापंचायत शुरू कर दी। किसानों को देख बिजली अधिकारियों के हाथपांव फूल गए। इस दौरान काफी देर तक हाईवाेल्टेज ड्रामा चला।

यह भी पढ़ें: Hathras case अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज पहुंची सीबीआई ने जेल में बन्द आरोपियों से भी पूछताछ

किसान पावर कॉरपाेरेशन में अनियमितता का आरोप लगाते हुए पिछले कई दिनों से भारतीय किसान यूनियन तोमर गुट ऊर्जा भवन में महापंचायत की तैयारी कर रहा था। इसके लिए संगठन ने पिछले कई दिनों से किसानों से जनसंपर्क करते हुए अभियान चलाया। सोमवार दोपहर तक सैकडों किसान ट्रैक्टर ट्राली में सवार होकर ऊर्जा भवन पहुंच कर एकत्र होने लगे। किसानों की संख्या को देखकर बिजली अफसरों के हाथ पांव फूल गए। ऊर्जा निगम अफसरों के निर्देश पर मुख्य द्वार बंद कर दिया गया। भाकियू पदाधिकारियों और पुलिस के बीच काफी देर तक द्वार खुलवाने को लेकर नोकझोंक होती रही। भाकियू पदाधिकारी ट्रैक्टर ट्राली के साथ अंदर प्रवेश करने को लेकर अड़ रहे।

यह भी पढ़ें: आगरा में सात लाख लूटकर बदमाशों ने कलेक्शन एजेंट को माैत के घाट उतारा

काफी देर तक नोक-झोंक होने के बाद दोपहर डीजे, हुक्का,तिरपाल और भट्टी लेकर पूरी तैयारी के साथ घुस गए। किसान महापंचायत में हिस्सा लेने के लिए किसान ट्रैक्टर ट्रॉली में पूरी तैयारी के साथ पहुंचे हैं। किसानों ने खाना बनाने के लिए भट्टी, तिरपाल, म्यूजिक सिस्टम, डीजे, हुक्का व माइक आदि के साथ ऊर्जा भवन में प्रवेश किया। मीडिया प्रभारी सुशील कुमार पटेल ने बताया कि दोपहर तीन बजे राष्ट्रीय अध्यक्ष संजीव तोमर किसानों को महापंचायत में संबोधित करेंगे। मंडल अध्यक्ष पदम सिंह के नेतृत्व में किसान महापंचायत कर रहे हैं।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned