प्रसाद नहीं इस मंदिर में चढ़ती है सिगरेट, 400 साल से चली आ रही परम्परा

रात को चढ़ाई गई सिगरेट की सुबह मिलती है राख, आज भी बना है राज आखिर कौन पीता है सिगरेट, मनोकामना पूर्ति के लिए चढ़ाई जाती है सिगरेट, कंकरखेड़ा में है 400 साल पुराना धन्ना बाबा का मंदिर, सिगरेट के साथ चढाई जाती है शराब

By: shivmani tyagi

Updated: 20 May 2021, 07:45 PM IST

पत्रिक न्यूज नेटवर्क
मेरठ ( meerut news ) मजहब या धर्म कोई भी हो, अपने भगवान और देवता में अस्था सभी लोग रखते हैं। पूजा भी अपने सांप्रदाय और धार्मिक अनुष्ठान के अनुसार करते हैं। कोई नारियल और फूल चढ़ाता है तो कोई बताशा और अगरबत्ती जलाकर अपने देवता को प्रसन्न करते हैं। पूजा का मकसद एक ही होता है कि लोग अपने परिवार, समाज और देश में तरक्की और सुख-समृद्वि की कामना करते हैं। आस्था इतनी प्रगाड़ होती है कि देवता को प्रसन्न करने के लिए लोग कुछ भी कर सकते हैं। इन सब के बीच समाज में एक देवता ऐसे भी हैं जिन्हे मनोकामना की पूर्ति के लिए लोग सिगरेट जलाते हैं।

महामारी फैलने पर धन्ना बाबा ने किया था हैती माता को प्रसन्न
मेरठ के कंकरखेडा में करीब 400 साल पुरान श्री धन्ना बाबा का मंदिर है। यह मंदिर गिहारा समाज का है। मंदिर के महंत नरेश कुमार के अनुसार किसी जमाने में यह कंकर खेडा कंजरखेडा के नाम से जाना जाता था। यहां पर गिहारा समाज के लोग रहते थे। नरेश कुमार के अनुसार यहां पर 400 साल पहले एक महामारी आई थी। इस महामारी में गिहारा समाज के सैकडों लोग मारे गए थे । उस समय धन्ना बाबा ने हैती माता को प्रसन्न किया और तीन वचन माता से लिए जिस पर माता ने उन्हें कहा कि गिहारा समाज के लिए एक मंदिर बना और उसके चारों तरफ चिलम का धुंआ कर जिससे ये बीमारी दूर हो जाएगी। धन्ना बाबा ने ऐसा ही किया। कुछ दिन बाद धन्ना बाबा इसी मंदिर में ईश्वर लीन हो गए। उनकी समाधि इसी मंदिर में बनी हुई है तभी से इस मंदिर में गिहारा समाज के लोग सिगरेट जलाकर अपनी मुराद मांगते हैं और पूरी होने पर यहां पर जानवर की बलि चढाते हैं।

सिगरेट-शराब के साथ दी जाती है बलि
गिहारा समाज के इस मंदिर में हर रविवार को भंडारा होता है और दूर-दूर से श्रद्भालु आते हैं। रविवार को दिन भर इस मंदिर में भीड लगी रहती है। मान्यता है कि लोगों की मुराद पूरी होने के बाद मंदिर में सिगरेट और शराब चढ़ाने के साथ ही बलि भी दी जाती है।

यह भी पढ़ें: गजब: एक रुपया भी नहीं होगा खर्च, बढ़ जाएगी आपके पंखे की रफ्तार और घट जाएगा बिजली बिल

यह भी पढ़ें: OMG पीने के लिए शराब नहीं मिली ताे इकलाैते बेटे ने कर दिया पिता का कत्ल

यह भी पढ़ें: अनोखा दरबार जहां मांगी गई मन्नत पूरी हाेने पर हिन्दू-मुस्लिम सभी चढ़ाते हैं मुर्गा

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned