कांग्रेस को बड़ा झटका, पार्टी की चेयरपर्सन अंजू अग्रवाल ने थामा भाजपा का दामन

Highlights

- पश्चिम उत्तर प्रदेश के क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल की मौजूदगी में ग्रहण कीभाजपा की सदस्यता

- भाजपा प्रत्याशी को हराकर 2017 में मुजफ्फरनगर की चेयरपर्सन बनीं थी अंजू अग्रवाल

- योगी और मोदी की नीतियों से प्रभावित होकर थामा भाजपा का दामन

By: lokesh verma

Published: 01 Oct 2020, 11:40 AM IST

मुजफ्फरनगर. नगरपालिका मुजफ्फरनगर की चेयरपर्सन अंजू अग्रवाल ने कांग्रेस का हाथ छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया है। चेयरपर्सन अंजू अग्रवाल के इस फैसले ने सभी को चौंका दिया है। बता दें कि नियुक्ति के बाद पहली बार मुजफ्फरनगर पहुंचे भाजपा के पश्चिम उत्तर प्रदेश के क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल की मौजूदगी में उन्होंने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान अंजू अग्रवाल के परिजन भी उनके साथ मौजूद रहे। अंजू अग्रवाल को भाजपा में लाने के लिए एक मंत्री की बड़ी भूमिका बताई जा रही है।

यह भी पढ़ें- हाथरस की बेटी से दरिंदगी के विरोध में सफाई व्यवस्था पूरी तरह ठप, जगह-जगह लगे गंदगी के ढेर

गौरतलब है कि नवंबर 2017 में हुए नगरीय निकाय चुनाव में जिले के बड़े औद्योगिक परिवार की बहू और गृहणी अंजू अग्रवाल पत्नी इंजीनियर अशोक अग्रवाल ने कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में भाजपा के गढ़ में ही भाजपा को हराकर जीत हासिल की थी। इस चुनाव में भाजपा की जीत के लिए जीआईसी मैदान पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रैली की थी, लेकिन अंजू अग्रवाल ने बिना किसी बड़े कांग्रेस नेता को यहां बुलाए बड़ी जीत दर्ज की थी।

चुनाव जीतने के बाद अंजू अग्रवाल और उनके निर्वाचित बोर्ड को 12 दिसंबर को टाउन हाल मैदान में तत्कालीन डीएम जीएस प्रियदर्शी ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ग्रहण कराई थी। अंजू अग्रवाल ने अपनी निर्भीक और सटीक तथा निष्पक्ष कार्यशैली के कारण अपने कार्यकाल की शुरुआत में ही जनता के बीच एक विशेष स्थान हासिल किया। भाजपा नेताओं के साथ उनका 36 का आंकडा पूरी तरह से उजागर रहा। वह किसी भी मोड़ पर कभी भी डरी नहीं और जनहितों को लेकर हमेशा ही संघर्ष किया और बिना भेदभाव के शहरी विकास को नए आयाम देने में जुटी रहीं।

दरअसल, पिछले काफी समय से नगर पालिका परिषद मुजफ्फरनगर की चेयरपर्सन अंजू अग्रवाल और केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान व मंत्री कपिल देव अग्रवाल के बीच विकास कार्यों को लेकर लगातार खींचतान चल रही थी, जिसके बाद चेयरमैन अंजू अग्रवाल का कब मन ऐसा बदला की नगर पालिका क्षेत्र में भगवा रंग करवाना शुरू कर दिया। लोगों ने तभी से कयास लगाने शुरू कर दिए थे कि जरूर नगर पालिका में कुछ न कुछ खिचड़ी पक रही है। मगर अब अंजू अग्रवाल के भाजपा में शामिल होने के बाद भगवा रंग के प्रति प्रेम का कारण समझ में आ गया है। इस दौरान उनसे बातचीत की गई तो उन्होंने केवल भाजपा में शामिल होना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की नीतियों से प्रभावित होना और शहर के विकास के लिए भाजपा में शामिल होना स्वीकार किया है। इस दौरान क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल ने उन्हें भाजपा ज्वाइन करा कर उनका स्वागत किया।

यह भी पढ़ें- योगी सरकार के खिलाफ फूटा युवाओं का गुस्सा, कैंडल मार्च निकालकर मांगा इंसाफ

BJP Congress
Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned