उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की टीम गठन को लेकर उठी मांग, प्रियंका गांंधी तक पहुंचा मामला

Highlights:

-वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सतीश शर्मा ने अन्नू टंडन के इस्तीफे को बताया दुर्भाग्यपूर्ण

-ट्वीट कर सतीश ने कहा प्रियंका जी अपनी इर्द—गिर्द टीम का मूल्यांकन करें

By: Rahul Chauhan

Published: 30 Oct 2020, 01:14 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव 2022 से पहले अपनी जड़ मजबूत करने में लगी कांग्रेस को गत गुरुवार को बड़ा झटका लगा। जब पार्टी की वरिष्ठ नेता अन्नू टंडन ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। अन्नू टंडन के इस्तीफे से प्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेसी नेता हतप्रभ हैं। अन्नू टंडन के इस्तीफे के बाद वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और एआईसीसी सदस्य सतीश शर्मा ने इस बारे में प्रियंका गांधी को ट्वीट किया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि ''अन्नू टंडन का कांग्रेस से इस्तीफा दुखद है। प्रियंका जी आपके इर्द गिर्द पीए से लेकर उप्र की टीम का मूल्यांकन करें! प्रियंका गांधी जी, प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं से सलाह करें।

उन्होंने लिखा है कि मोहसिना क़िदवाई, सलमान खुर्शीद, प्रमोद तिवारी,आचार्य प्रमोद कृषणम और पीएल पुनिया से प्रियंका जी को सलाह करनी चाहिए। सतीश शर्मा ने कहा कि राजनैतिक दल को छोड़ना कोई नई बात नहीं हैं। नेता एक दल को छोड़कर दूसरे दल में जाते रहते हैं। लेकिन अन्नू टंडन का जाना काफी दुर्भाग्यपूर्ण हैं। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की जड़े मजबूत करने के अभियान में काफी जोर-शोर से लगीं अन्नू टंडन के इस्तीफा देने से पार्टी को बड़ा झटका लगा है।

बता दें कि अन्नू टंडन ने अपना इस्तीफा ट्वीट करते हुए उन्होंने प्रदेश नेतृत्व से कोई तालमेल न होने और सहयोग न मिलने के आरोप लगाए थे। अन्नू टंडन ने कहा है कि पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा से बातचीत से भी आगे का कोई रास्ता नहीं निकल सका। उन्होंने कहा कि इस कारण से उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस से अपना इस्तीफा दे दिया है। इस संबंध में मैंने अपना बयान भी साझा किया है। अब मुझे मेरे सभी शुभचिंतकों का प्यार और आशीर्वाद चाहिए।

अन्नू टंडन ने कहा कि उन्हेंं इतना दुख 2019 का लोकसभा चुनाव हारने का नहीं हुआ जितना की पार्टी संगठन की तबाही और बिखराव देखकर हो रहा है। अन्नू टंडन ने इस्तीफा देने के बाद आरोप लगाया कि कांग्रेस का नेतृत्व सोशल मीडिया मैनजमेंट और व्यक्तिगत ब्रांडिंग में लीन है। पार्टी और वोटरों के बिखर जाने से उनको कोई मतलब नहीं है। सतीश शर्मा ने कहा प्रियंका गांधी को अब संगठन में अपने सहयोगियों से सलाह करनी होगी।

Congress Congress leader
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned