Cyclone Tauktae वेस्ट यूपी में बरसात ने तोड़ 42 साल का रिकार्ड, आने वाले दस दिनों के लिए अलर्ट जारी

Cyclone Tauktae की वजह से वेस्ट यपी में मई माह में अभी तक हुई 110. 2 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। इससे पहले 2016 में 76 मिलीमीटर तक ही बारिश हुई थी। वर्ष 2020 में भी मई माह में 70 मिलीमीटर तक ही बारिश हुई थी।

By: shivmani tyagi

Updated: 20 May 2021, 05:17 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मेरठ. ( Cyclone Tauktae ) ताैकते तूफान की वजह से इस बार मई के महीने में मौसम ने पिछले सभी रिकार्ड तोड़ दिए। कृषि विश्व विद्यालय के कृषि मौसम वैज्ञानिक डाक्टर एन सुभाष ने बताया कि पिछले 42 सालों में इससे अधिक बारिश कभी नहीं हुई। उन्होंने बताया कि इस बार अभी तक रिकार्ड 110:2 मिमी बारिश ( heavy rain ) हो चुकी है। जबकि अभी 10 दिन मई महीना समाप्त होने में शेष हैं।

यह भी पढ़ें: UP Weather Tauktae Cyclone Update: राजधानी लखनऊ सहित यूपी के कई जिलों में तौकते का असर, रुक-रुक कर हो रही बारिश, अगले 48 घंटे बिगड़ा रहेगा मौसम

इससे भी अधिक हैरान कर देने वाली बात यह है कि एक और पश्चिमी विक्षोभ ( Weather forecast ) वायुमंडल में बन रहा है। पिछले 42 वर्ष के आंकड़ों से यह पता चला है कि मई में इस साल रिकार्ड बरिश हुई है। अभी 110.2 मिमी बारिश हो चुकी है। डाक्टर सुभाष ने बताया कि वर्ष 2004-05 और 2006 में मई के महीने में कोई बारिश नहीं हुई थी। जबकि सबसे कम बारिश 1988 और 1989 में मई माह में दर्ज की गई थी। इन दोनों महीनों में 1:9 मिमी बारिश दर्ज की गई थी। इससे पहले वर्ष 2016 में 76 मिमी बारिश मई के महीने में दर्ज की गई थी। इसके अलावा पिछले वर्ष 2020 में भी मई के महीने में 70 मिमी बारिश दर्ज की गई थी।

यह भी पढ़ें: UP Weather Tauktae Cyclone Update: राजधानी लखनऊ सहित यूपी के कई जिलों में तौकते का असर, रुक-रुक कर हो रही बारिश, अगले 48 घंटे बिगड़ा रहेगा मौसम

मई महीने में हई ये बारिश किसानों के लिए काफी मुफीद रहेगी। इससे किसानों को खरीफ की फसल में बहुत लाभ मिलेगा। बता दें कि मेरठ और आसपास के क्षेत्रों में पिछले 24 घंटे से अधिक समय से लगातार बारिश हो रही थी। बुधवार की पूरी रात बारिश से महानगर सराबोर हो गया। महानगर के निचले क्षेत्रों में जलभराव की स्थिति उत्पन्न हो गई। गुरूवार को दोपहर बाद लोगों को सूर्य भगवान के दर्शन हुए लेकिन आसमान में बादलों और सूर्य की आंख-मिचौली चलती रही। वेस्ट के कुछ जिलों में तगड़ी धूंप खिली है जिससे कच्चे घरों काे नुकसान होने की आशंका है। माना जा रहा था कि इस बरसात के बाद अब गर्मी पड़ेगी लेकिन मौसम विभाग के विशेषज्ञों का कहना है कि वातावरण में एक और पश्चिमी विक्षोभ बन रहा है। ऐसे में साफ है कि बरसात अभी खत्म नहीं हुई है। अगले दस दिनों में अभी फिर से बरसात अपना रूप दिखा सकती है।

यह भी पढ़ें: Tauktae Cyclone : यूपी में भी दिखेगा चक्रवाती तूफान तौकते का असर, कई जिलों झमाझम बारिश की संभावना

यह भी पढ़ें: कोरोना काल में रोगों से लड़ने में मिलेगी ताकत, सुबह नाश्ते में सेब साथ खाएं ये पीले रंग फल

Weather forecast
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned