दलित समाज ने चढ़ाई आस्तीनें, 18 अगस्त को यूपी के हर जिले और तहसील में प्रदर्शन

zoom ऐप पर रविवार काे दलित समाज ने तय की रणनीति
एक मंच पर आए दलित समाज के सामाजिक संगठन
मेरठ से ब्लू पेंथर नामक संगठन ने लिया वार्तालाप में भाग

By: shivmani tyagi

Updated: 16 Aug 2020, 09:13 PM IST

मेरठ ( meerut news ) लखीमपुर खीरी में दलित (Dalit) किशोरी की हत्या और आजमगढ़ में दलित ग्राम प्रधान की हत्या की वारदात के बाद से दलित समाज के लोगों में आक्रोश है। प्रदेश में दलितों पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ प्रदर्शन ( protest ) के लिए दलित समाज एकजुट हो गया है।

यह भी पढ़ें: IPS transfer : यूपी में कई आईपीएस के तबादले, बिजनाैर और बागपत के SP बदले

इस संबंध में रविवार को पूरे प्रदेश और अन्य राज्यों के दलित समाजिक संगठनों ने जूम ऐप पर एक वार्तालाप बैठक आयोजित की। इस ऑनलाइन मिटिंग में आगे की रणीनीति पर विचार किया। मेरठ से ब्लू पेंथर नाम के संगठन के पदाधिकारी सुशील गौतम ने भी इस वार्तालाप में भाग लिया। उन्होंने बताया कि बैठक में तय की गई रणनीति के तहत आगामी 18 अगस्त को प्रदेश के हर जिले और तहसील में दलित समाज के लोग प्रदर्शन करेंगे।

यह भी पढ़ें: यूपी: जंगल में पेड़ पर लटका मिला शव, दाे दिन से लापता था युवक

इसके बाद तय किया जाएगा कि आगामी प्रदर्शन दिल्ली में किया जाए या फिर लखनऊ में किया जाए। सुशील गौतम ने कहा कि जब से देश और प्रदेश में भाजपा सरकार आई है तब से दलित समाज के लोगों पर अत्याचार बढ़ गए हैं। लखीमपुर खीरी की घटना इसका एक ताजा उदाहरण है । उन्हाेंने बताया कि, दलित सामाजिक संगठनों ने रविवार को आयोजित इस वार्तालाप में यूपी के अलावा अन्य राज्यों से भी जूम ऐप के माध्यम से भाग लिया। ब्लू पेंंथर की ओर से उन्होंने कहा कि प्रदेश में धर्म, जाति को बढ़ावा दिया जा रहा है। एक जाति विशेष के लोग दलितों पर अत्याचार कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें:

यह भी कहा कि रदेश की योगी सरकार इसकी अनदेखी कर रही है।
इसी के विरोध में योगी सरकार और केंद्र सरकार को जगाने के लिए ही आगामी 18 अगस्त को प्रदेश के सभी जिलों और हर तहसील में प्रदर्शन किया जाएगा। सोमवार को दलित समाज के लाेग लखीमपुर खीरी में बड़ा प्रदर्शन करेंगे। जूम ऐप पर हुई मिटिंग में प्रदेश के अधिकांश जिलों के अलावा बिहार, झारखंड और दिल्ली से भी दलित चिंतक शामिल हुए। इनके अलावा कांग्रेस, एनएपीआईएम, अरूधती राय और रिचा सिंह भी उपस्थित रही। रिहाई मंच के राजीव यादव, शारूरूख अहमद, बांके लाल ने वार्तालाप में भाग लिया। रिहाई मंच के बाकें लाल लखीमपुर खीरी में उस गांव से लाइव थे जहां पर यह घटना हुई है।


ये है मामला
लखीमपुर खीरी जिले के थाना ईसानगर क्षेत्र में 13 साल की किशोरी से हवसी दरिंदों ने पहले सामूहिक दुष्कर्म किया, फिर उसकी दुपट्टे से गला घोंटकर हत्या की थी। पुलिस ने हत्या के दर्ज इस मामले में दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट की धारा बढ़ा दी है। साथ ही नामजद दो आरोपियों को गिरफ्तार कर चालान भेजा है। पुलिस दोनों आरोपियों पर एनएसए लगाने की कार्रवाई शुरू कर दी है। शुक्रवार की दोपहर थाना क्षेत्र की 13 वर्षीय किशोरी खेतों की ओर शौच करने गई थी। उसी दिन शाम को उसका शव गन्ने के खेत में मिला था। गले मे दुपट्टा कसा था। हाथपांव बंधे थे। घर वालों और प्रत्यक्षदर्शियों ने दोनों आंख फूटी होने का दावा किया था।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned