'मृतक' ने किया दावा मुझे मेरी पेंशन लौटाओ, पढ़ें हैरान करने वाला पूरा मामला

मेरठ के सरकारी दफ्तर में एक ऐसा व्यक्ति पहुंचा जो विभाग के अनुसार मरा हुआ था

मेरठ. सरकारी आॅफिसों में अक्सर लापरवाही के मामले सामने आते है। विभागीय अफसर कभी कभार जिंदा इंसान को मरा हुआ और मरे व्यक्ति को जिदा कर देते है। ताजा मामला भी चौकानें वाला है। मेरठ के सरकारी दफ्तर में एक ऐसा व्यक्ति पहुंचा जो विभाग के अनुसार मरा हुआ था। उसका डेथ सर्टिफिकेट तक भी सरकारी विभाग की तरफ से जारी किया जा चुका था। जब वह आॅफिस पहुंचा तो अधिकारियों व कर्मचारियों ने उसके मृत होने की बात कही। साथ ही भूत-भूत करने लगे। यह सुनकर उसे भी कुछ अटपटा लगा। अब उस व्यक्ति को अपने जिंदा होने का प्रमाण देना पड़ा। उधर, पूरे मामले की जांच एसडीएम को सौंपी गई।

यह भी पढ़ें: फेसबुक पर पत्नी ने किया ऐसा फोटो पोस्ट कि पति को जाना पड़ा थाना और फिर..

भूत को नहीं दी जाती पेंशन

मवाना तहसील एरिया में रहनेे वाले बुजुर्ग ओमी पैर से दिव्यांग हैं। उन्हें दिव्यांग होने का प्रमाण पत्र मुख्य चिकित्सा अधिकारी की तरफ से दिया हुआ है। उन्हें दिव्यांग पेंशन मिलती थी। करीब एक साल पहले उनकी पेंशन बंद कर दी गई। बताया गया है कि ओमी दिव्यांग सशक्तिकरण अधिकारी के आॅफिस गए थे। यहां उन्होंने खुद की पेंशन बंद होने की बात पूछी थी। इस दौरान आॅफिस में तैनात कर्मचारियों से कुछ अलग ही जवाब मिला। कर्मचारियों ने उन्हें मृत होने की बात कही। ओमी ने बताया कि कर्मचारियों ने कहा था कि मृत व्यक्ति को भी कभी पेंशन दी जाती है।

15 साल से मिल रही थी पेंशन

दरअसल में ओमी को पिछले एक साल से पेंशन नहीं दी जा रही थी। उन्हें पिछले 15 साल से पेंशन नहीं मिल रही थी। नगरपालिका ने उन्हें मरा हुआ दिखाया हुआ था। आॅफिस स्टॉफ ने रेकॉर्ड में ओमी के मरा होना दर्ज बताया। उन्होंने पूरे मामले की जांच मवाना की नगरपालिका में जाकर की। नगरपालिका के रेकॉर्ड में ओमी मरे हुए दर्ज थे। साथ ही उसका डेथ सर्टिफिकेट भी जारी किया हुआ था। मवाना के एसडीएम अंकुर श्रीवास्तव के मुताबिक ओमी को पिछले एक साल से पेंशन नहीं मिल रही है। उन्होंने बताया कि जांच में सामने आया है कि उन्हें 15 साल से दिव्यांग पेंशन मिलती थी। दिव्यांग सशक्तिकरण अधिकारी की माने तो नगर पालिका मवाना ने उन्हें मृत दिखाया और बाद में पेंशन बंद कर दी गई। एसडीएम ने बताया कि पूरे मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही पेंशन शुरू कर दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: 5 माह बाद फोन में बजी थी ऐसी रिंगटोन कि खुल गया हत्या का राज

virendra sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned