Lockdown के दौरान मेरठ सील की खबर पर सामान लेने उमड़ी भीड़, सब्जी मंडी में पुलिस ने लाठीचार्ज से खदेड़ा

Highlights

  • बुधवार की रात 12 बजे से मेरठ के सात इलाके होंगे सील
  • सब्जी और आवश्यक सामान लेने के लिए घरों से निकली भीड़
  • पुलिस ने सब्जी विक्रेताओं और खरीदारों को लाठियों से खदेड़ा

 

By: sanjay sharma

Published: 08 Apr 2020, 07:48 PM IST

मेरठ। मेरठ जनपद को सील करने की खबर जैसे ही टीवी चैनलों पर लोगों को दिखाई दी। लोग थैला लेकर सब्जी मंडी व अन्य जरूरी सामान लेने के लिए घर से निकले। लालकुर्ती सब्जी मंडी में तो हाल और ज्यादा खराब हो गए। लॉकडाउन के बीच जब सब्जी मंडी खुली तो भारी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान जब मीडिया कर्मी वहा पहुंचे तो उनसे भी दुर्व्यवहार किया गया। जिसकी सूचना मिलते ही भारी पुलिस बल वहां पहुंचा और लोगों को वहां से खदेड़ दिया।

यह भी पढ़ेंः मेरठ के इन इलाकों को पूरी तरह किया जाएगा सील, राशन के साथ सब्जी और दूध की दुकानें भी रहेंगी बंद

वहीं सब्जी मंडी में लाठियां भांजते हुए दुकानें बंद करवा दी। पुलिस का कहना है कि जब सरकार ने सामाजिक दूरी बनाकर रखने के लिए कहा गया है तो ऐसे में इतनी भीड़ एकत्रित क्यों हुई। प्रशासन द्वारा रेहड़ियों के माध्यम से सब्जियां व दूसरी वस्तुएं लोगों के घरों तक पहुंचाने के आदेश जारी किए हैं। इसीलिए मंडी में भीड़ न जुटाएं। बीच में ही सब्जी मंडी बंद करवा दी गई। प्रशासन द्वारा मंडी में भारी भीड़ को देखते हुए लाठी चार्जकर सभी सब्जी विक्रेताओं और खरीददारों को मंडी से खदेड़ दिया। पुलिस के अनुसार जिन रेहड़ी-फड़ वालों को परमिशन दी गई है, वहां सब्जियां भरकर पूरे शहर में सप्लाई होगी। जो भी बिना परमिशन दुकान खोलेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

यह भी पढ़ेंः Lockdown के बीच लोगों ने घरों में मनाई हनुमान जयंती, मंदिरों में भीतर से सजावट, ऑनलाइन हुए बजरंगबली के दर्शन

क्या होता है हॉटस्पॉट

बता दें कि छह से ज्यादा कोरोना संक्रमितों के मामले वाले 15 जिलों गौतमबुद्धनगर, आगरा, मेरठ, गाजियाबाद, लखनऊ, कानपुर, शामली, सहारनपुर, वाराणसी, बुलंदशहर, बस्ती, महाराजगंज, सीतापुर, बरेली आदि में प्रशासन ने कोरोना प्रभावित इलाकों यानि कोरोना के हॉटस्पॉट को पूरी तरह सील करने के आदेश दिए हैं। इस बारे में जिला सूचना अधिकारी आशुतोष चंदोला ने बताया कि हॉटस्पॉट से तात्पर्य वे इलाके जहां कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं और वहां एक से दूसरे व्यक्ति को कोरोना का संक्रमण हुआ है। इसके अलावा जहां एकसाथ बड़ी मात्रा में कोरोना प्रभावित लोग मिले हैं। ऐसे में ये सभी कोरोना के हॉटस्पॉट हैं। जिले के बाकी हिस्सों में व्यवस्था सामान्य लॉकडाउन की तरह रहेगी।

यह भी पढ़ेंः Lockdown : मुस्लिम धर्मगुरूओं ने शब-ए-बारात को लेकर समुदाय के लोगों से की ये अपील, कहा- घर पर रहकर ही करें इबादत

meerut

क्या रहेगी व्यवस्था

आशुतोष चंदोला ने बताया कि शासन द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार जिले में जारी किए गए सभी पास की समीक्षा की जाएगी। इनमें से जो गैरजरूरी होंगे उन्हें निरस्त किया जाएगा। प्रभावित क्षेत्रों में सभी दुकानों, सब्जी मंडी को भी बंद करते हुए वहां आवश्यक वस्तुओं की शत प्रतिशत होम डिलीवरी की जाएगी। यहां लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन किया जाएगा। शत प्रतिशत घरों की जांच करते हुए इन्हें सेनेटाइज किया जाएगा। आवश्यक वस्तुओं से संबंधित प्रतिष्ठानों, फैक्ट्रियों के मजदूरों कर्मचारियों जिन्हें जाना अत्यंत जरूरी है उनके अलग अलग वाहनों की बजाय पूल वाहनों से लाने ले जाने की व्यवस्था की जाए।

sanjay sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned