पत्नी के साथ खाया खाना फिर दबा दिया गला, लाश के पास बैठकर गुजारी रात

  • मकान बेचने के चक्कर में उजाड़ लिया अपना घर
  • पुलिस ने किया खुलासा, पकड़ा गया आरोपी
  • हत्या कर सुबह चला गया ट्रक चलाने

 

By: shivmani tyagi

Published: 11 Jan 2021, 07:05 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क

मेरठ ( meerut news ) थाना टीपी नगर क्षेत्र में एक ट्रक ड्राइवर ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी। ड्राइवर ने हत्या से पहले पत्नी के साथ बैठकर खाना खाया इसके बाद उसका गला दबा दिया। इसके बाद हत्यारोपी पति रातभर पत्नी की लाश के पास बैठा रहा। किसी को शक न हो इसलिए वह सुबह ही अपनी डयूटी पर चला गया। मामला खुलने पर मृतका की लड़की ने अपने सौतेले पिता के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

यह भी पढ़ें: मुरादनगर श्मशान घाट हादसा: SIT टीम ने चश्मदीदों के बयान लिए

पूजा पत्नी सतेन्द्र नागर निवासी मुबारिकपुर थाना भावनपुर ने पुलिस ( Meerut Police ) को सूचना दी कि उसकी मां से सौतेला पिता सेठपाल मारपीट करता था जब उसकी मां का फोन नहीं मिला तो वह अपनी ससुराल से मां के घर जा पहुंची। जहां पर घर के अन्दर मां की लाश चारपाई पर पडी हुई थी व चेहरे पर चोट के निशान थे। थाना टीपी नगर ने घटनास्थल पर जाकर एफएसएल टीम के साथ गहनता से घटनास्थल का निरीक्षण किया और सबूतों के आधार पर हत्या अभियुक्त मृतक महिला के दूसरा पति सेठपाल पुत्र विक्रम सिहं निवासी रसूलपुर थाना भोपा जनपद मुजफ्फरनगर को गिरफ्तार कर लिया। इसने पूछताछ के दौरान बताया कि लगभग 15 - 16 वर्ष पहले वह मध्यप्रदेश में फोरलेन कम्पनी में ट्रक चलाता था। वहां पर उसकी मुलाकात अनिता से हुई थी। अनिता के पहले पति घनश्याम का देहान्त हो गया था तथा अनिता ने उसके साथ शादी कर ली।

यह भी पढ़ें: मुरादनगर शमशान घाट हादसा : मलबे में दबे किशोर ने बताया जब आंख खुली तो दोनों ओर थी लाशें

सेठपाल अनिता को लेकर मेरठ आ गया था। यहां पर वर्ष 2008 में शिवपुरम में मकान लेकर रह रहा था। उस समय अनिता को उसके पहले पति से एक बेटी नाम पूजा उम्र करीब 10 वर्ष भी थी। सेठपाल ने बताया कि वह पत्नी अनिता के व्यवहार से व्यथित था तथा अपना मकान बेचना चाहता था परन्तु अनिता मकान नहीं बेचने दे रही थी। वह हर काम मे सेठपाल का विरोध करती थी तथा दिनभर लडती झगडती रहती थी।

यह भी पढ़ें: गैर मर्द से इश्क फरमा रही थी पत्नी, पति ने देखा तो उतार दिया मौत के घाट

इसी कारण गुस्से में आकर सेठपाल ने शनिवार की रात पहले अनिता के साथ खाना खाया। उसके बाद गला दबाकर हत्या कर दी थी। हत्या के बाद उसने शव को चारपाई पर लिटा दिया और पूरी रात वहीं बैठा रहा। रविवार की सुबह वह चुपचाप घर से निकल गया।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned