किसानों से बिजली के बिल की वसूली के लिए विभाग ने तैयार किया है यह प्लान, आप सुनकर हैरत करेंगे

किसानों से बिजली के बिल की वसूली के लिए विभाग ने तैयार किया है यह प्लान, आप सुनकर हैरत करेंगे

Sanjay Kumar Sharma | Publish: Sep, 25 2018 03:47:04 PM (IST) | Updated: Sep, 25 2018 03:47:05 PM (IST) Meerut, Uttar Pradesh, India

प्रबंध निदेशक ने प्रत्येक उपखंड के लिए दिए हैं ये निर्देश

मेरठ। बिजली विभाग के अफसर अपना लक्ष्य पूरा करने के लिए नए-नए नियम समय-समय पर लाते रहते हैं, लेकिन इस बार विभाग के अफसरों ने जो प्लान तैयार किया है, इसके बारे में लोगों को पता नहीं है। बिजली बिल की वसूली के लिए विभाग ने इस बार कुछ एेसा नया किया है, जिसमें लोग शामिल तो हो रहे हैं, लेकिनकिसानाें आैर ग्रामीणों को जब पता लग रहा है तो दबे पांव लौट भी रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः नरेंद्र मोदी सरकार की नर्इ योजना में लाइसेंसी सप्लायर से खरीद सकेंगे घर के लिए बिजली, जानिए इसके बारे में

यह भी पढ़ेंः बिजली विभाग के इस पावरफुल प्लान के शिकंजे में आ रहे हैं बड़े चोर, मचा हुआ है हड़कंप

दस हजार रुपये से ज्यादा के बकाएदारों की सूची तैयार

पीवीवीएनएल ने ग्रामीण क्षेत्रों में कैंप लगाने का निर्णय लिया है। इसमें ग्रामीणों की बिजली से जुड़ी सभी समस्याआें का निराकरण किया जाएगा। पीवीवीएनएल के अंतर्गत सभी 14 जनपदों में 25 व 29 सितंबर को प्रत्येक उप खंड में दो-दो जनसुविधा केंद्रों पर कैंप लगाए जाएंगे। कैंपों में उपभोक्ताआें के बैठने आैर पीने के पानी इत्यादि की व्यवस्था के लिए निर्देश दिए गए हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में त्रुटिपूर्ण बिलों के संशोधन, विद्युत बिलों के भुगतान, बकायेदारों के प्रभावी संयोजन विच्छेदन एवं वसूली, नये संयोजन निर्गत किये जाने एवं अनमीटर्ड संयोजनों पर मीटर स्थापित किये जाने के लिए समस्त उपखण्ड अधिकारियों के उपखण्ड के अन्तर्गत जनसुविधा केन्द्रों पर प्रातः 10 से सायं 6 बजे तक कैम्पों का आयोजन किया जायेगा। इस सम्बन्ध में शिविरों के लिए अधिकृत किये गये अधिकारियों द्वारा आयोजित शिविर स्थल पर उपभोक्ताओं के बैठने एवं पीने के पानी इत्यादि की उचित व्यवस्था, बिल संशोधन एवं उपभोक्ताओं की समस्याओं के त्वरित समाधान के लिए स्टाफ आदि की समुचित व्यवस्था भी होगी। शिविर स्थल के आसपास के गांव के 10000 व इससे ज्यादा के बकायेदारों की सूची एवं स्टाॅप बिल उपभोक्ताओं की सूची उपलब्ध रहने के पीवीवीएनएल एमडी आशुतोष निरंजन ने निर्देश दिए हैं। साथ ही बकाएदारों से वसूली के सखत निर्देश भी दिए हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned