ठेला लगाने के बहाने व्यापारियों की रेकी के बाद करते थे लूट, पुलिस ने पहुंचा दिया अस्पताल

Highlights:

- 25 दिन से दो व्यापारियों की कर रहे थे रेकी

- पुलिस से नहीं होती मुलाकात तो व्यापारियों को लूटने का था प्लान

By: Rahul Chauhan

Published: 19 Jan 2021, 03:49 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ। 25 दिन से दो व्यापारियों की रेकी करने के बाद बदमाश उनके साथ लूट की घटना को अंजाम देने के लिए निकले। लेकिन इससे पहले पुलिस को भनक लग गई और व्यापारियों को लूटने से पहले ही पुलिस ने उनको अस्पताल पहुंच गए। बदमाशों को थाना मेडिकल पुलिस ने हाफ एनकाउंटर में गोली मारकर अस्पताल पहुंचाया। थानाध्यक्ष मेडिकल प्रमोद कुमार गौतम ने बताया कि वह पुलिस टीम के साथ जागृत बिहार एक्सटेंसन के पास चेकिंग कर रहे थे तभी कीर्ति पैलेस की तरफ से दो बाइक पर सवार युवकों को पुलिस टीम द्वारा रुकने का इशारा किया गया। पुलिस द्वारा रोके जाने पर दोनों बाइकों पर सवार बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायरिंग शुरु कर दी। जवाबी फायरिंग में दो बदमाश गोली लगने से घायल हो गये और उनके तीन साथी अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गये। पुलिस द्वारा फरार बदमाशों की काम्बिंग की जा रही है। घायलों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया। घायल बदमाशों को उपचार हेतु अस्पताल भेजा गया। थाना मेडिकल पुलिस द्वारा आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है।

यह भी पढ़ें: 'Tandav' को लेकर बढ़ता विवाद, SC/ST एक्ट के तहत FIR दर्ज, BSP नेता बोले- हमारे क्षेत्र में हुई है Shooting

घायल बदमाशों ने पूछताछ में बताया कि उक्त दोनों बदमाश अपने साथियों के साथ मिलकर गोला कुँआ थाना लिसाड़ी गेट क्षेत्र के ऊन व्यापारी से लूट करने के लिए जा रहे थे। दोनों बदमाशों ने बताया कि उन्होने अपने साथी दिल्लू उर्फ दिलशाद, जो ठेला चलाने का काम करता है,की सूचना पर उक्त व्यापारी को लूटने की योजना बनाई थी । इसके अलावा इन बदमाशों द्वारा थाना टीपीनगर क्षेत्र के बडे़ टायर व्यवसायी को भी लूटने का इरादा था। जिसकी सूचना उक्त व्यपारी के यहाँ पूर्व में काम करने वाले हसनैन उर्फ हननैन ने दी थी। जिसके लिए इन बदमाशों द्वारा करीब 25 दिनों से उक्त दोनों व्यापारियों की रेकी की जा रही थी।

यह भी देखें: बाराबंकी में युवती से दरिंदगी पर शुरू हुई राजनीति

बदमाशों द्वारा दोनों व्यवसायियों के दुकान पर आने का समय एवं दुकान से वापस घर जाने के समय पर यह लोग स्कूटी और बाईक से पीछा करके उनके आने जाने का रास्ता व समय आदि पर निरंतर निगाह रख रहे थे। जिसमें टायर व्यापारी के यहाँ पर पूर्व में काम करने वाले हसनैन ने उनके यहाँ काफी रुपया मिलने की सूचना इस गैंग को दी थी।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned