scriptFake degree of CCSU of Meerut being sold for 40 thousand in Gujarat | गुजरात में 40 हजार में बिक रही मेरठ के सीसीएसयू की फर्जी मार्कशीट-डिग्री, सत्यापन में खुलासा | Patrika News

गुजरात में 40 हजार में बिक रही मेरठ के सीसीएसयू की फर्जी मार्कशीट-डिग्री, सत्यापन में खुलासा

Fake marksheet-degree News मेरठ स्थित चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय की मार्कशीट और डिग्री के फर्जीवाड़े का बड़ा मामला सामने आया है। ये फर्जीवाडा पीएम मोदी के राज्य गुजरात में हो रहा है। जहां पर सीसीएसयू की डिग्री और मार्कशीट 40 हजार रुपये में बेची जा रही है। कई युवकों ने सीसीएसयू की फर्जी मार्कशीट और डिग्री के बल पर सरकारी नौकरी पा ली है। फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद अब इसकी जांच शुरू हुई है।

मेरठ

Updated: May 27, 2022 10:40:44 am

Fake marksheet-degree News प्रधानमंत्री मोदी के राज्य गुजरात में मेरठ के सीसीएसयू की फर्जी मार्कशीट और डिग्री 30—40 हजार रुपये में धडल्ले से बेची जा रही है। मामला उस समय पकड़ में आया जब ये नकली मार्कशीट और डिग्री सीसीएसयू में सत्यापन के लिए आई और यहां पर पकड़ी गई। इस तरह के करीब 11 मामले सामने आए हैं। जिसमें सीसीएसयू की फर्जी मार्कशीट और डिग्री के दम पर 11 युवकों ने बिहार तकनीकी सेवा आयोग में मत्स्य विकास अधिकारी के पद पर नौकरी ले ली।
गुजरात में 40 हजार में बिक रही मेरठ के सीसीएसयू की फर्जी मार्कशीट-डिग्री, सत्यापन में खुलासा
गुजरात में 40 हजार में बिक रही मेरठ के सीसीएसयू की फर्जी मार्कशीट-डिग्री, सत्यापन में खुलासा
गुजरात के नर्मदा में सीसीएसयू के नाम की ये फर्जी डिग्री 30 से 40 हजार रुपये में बेची जाने की जानकारी मिली है। शिकायत के बाद पुलिस ने जब सीसीएसयू से इनका सत्यापन कराया तो करीब 100 डिग्री और मार्कशीट फर्जी पाई गई। इसी तरह के एक और मामले में गुजरात के गांधी नगर में एक सेंटर सीसीएसयू की फर्जी डिग्री बांट रहा था। वहां भी 10 डिग्री-मार्कशीट फर्जी मिली।
यह भी पढ़े : गुरु जी छात्रा संग कर रहे थे गंदी बात,पत्नी ने मास्साब के सिर से उतारा आशिकी का भूत


जालसाज दिलवा रहे फर्जी डिग्री के दम पर बेरोजगारों को नौकरी
बता दें कि सरकारी या प्राइवेट नौकरी मिलने के बाद प्रमाण पत्रों का संबंधित स्कूल कालेज और विश्वविद्यालय से सत्यापन कराया जाता है। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में प्रतिदिन 30 से 40 डिग्री-मार्कशीट सत्यापन के लिए आती हैं। फर्जीवाड़े का खुलासा हाल दिनों में हुए सत्यापन से हुआ है। जिसमें शातिरों ने कंप्यूटर से युवाओं को सीसीएसयू की मार्कशीट और डिग्री की हूबहू कॉपी बनाकर दे दी। बिहार में ऐसा ही हुआ है। यहां 2021 में तकनीकी सेवा आयोग ने मत्स्य विकास अधिकारी के पदों पर भर्ती निकाली। इसमें 10 अभ्यर्थियों ने सीसीएसयू के नाम की फर्जी मार्कशीट-डिग्री लगाकर नौकरी पा ली।
यह भी पढ़े : जब तक मां की नहीं निकल गई जान फर्श पर पटकता रहा कलयुगी बेटा, पूरा मेरठ शर्मसार

गुजरात के राजपिपला नर्मदा थाना पुलिस ने वहां एक गिरोह को पकड़ा जो युवाओं को पैसे लेकर फर्जी डिग्री दिलाता था। इस गिरोह के पास से 100 फर्जी डिग्री-मार्कशीट मिली। टयूटोरियल सेंटर में मिली सभी मार्कशीट और डिग्री सीसीएसयू के नाम की फर्जी हैं। इस बारे में सीसीएसयू की प्रोवीसी वाई विमला ने बताया कि मार्कशीट और डिग्री के फर्जीवाड़े की जानकारी सामने आई है। विवि अपने स्तर से इस पूरे प्रकरण की जांच कर रहा है। यह पता लगाया जा रहा है कि कहीं विवि का कोई कर्मचारी तो इस मामले में लिप्त नहीं है। इसकी भी जांच कराई जा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: उद्धव और शिंदे के बीच सुलह कराना चाहते हैं शिवसेना के सांसद, बीजेपी का बड़ा दावा-12 एमपी पाला बदलने के लिए तैयारUdaipur Kanhaiya Lal Murder: उदयपुर हत्याकांड के आरोपियों को NIA कोर्ट जयपुर में किया जाएगा पेशUP के इन पांच शहरों को हवाई मार्ग से जोड़ने के लिए एमओयू साइनमणिपुरः नोनी में भूस्खलन में अब तक 20 की मौत, 44 लोग अभी लापतानूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter Pettitionबिकरूकांडः आखिर कौन है जो रहस्यमयी गाड़ियों से अपराधियों के परिवार को पहुंचा रहा है राशनMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्त
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.