पिता नहीं देता था जेब खर्च, बेटे और पत्नी ने बलकटी से काटकर कर दी हत्या

  • मृतक की पत्नी और बेटे को किया गिरफ्तार
  • बाप को मारकर आला कत्ल बिटौड़े में छिपाया

By: shivmani tyagi

Published: 22 Jan 2021, 10:43 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
मेरठ ( meerut news ) जिले में एक बार फिर से खून के रिश्ते शर्मसार हो गए। इकलौते पुत्र और पत्नी ने मिलकर राजमिस्त्री का गला दराती और बलकटी से रेत दिया। पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए हत्याराेपी पत्नी और उसके इकलौते बेटे को गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें: टॉफी लेने के लिए घर से निकली मासूम बहनों पर दीवार गिरी, दोनों की मौत

घटना थाना गंगानगर क्षेत्र करी है। ललसाना गांव में बुधवार को राजमिस्त्री का काम करने वाले अरुण उर्फ रिंकू की हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने इस मामले में शुक्रवार काे उसके बेटे और पत्नी को गिरफ्तार कर लिया। मृतक की पत्नी रेखा व इकलौते पुत्र जतिन ने तीसरे मृतक के रिश्ते के भाई नरेंद्र के साथ मिलकर अरुण को मौत के घाट उतारा था। पुलिस ( Meerut Police ) ने गांव में उपलों के बिटोड़े से आला कत्ल बरामद कर लिया है। पुलिस जांच में हत्या के पीछे का कारण मृतक की पत्नी व पुत्र ने अरुण से घरेलू खर्च न मिलना व एक अन्य तीसरे युवक नरेंद्र से अवैध संबंध होने की बात का होना बताया है।

यह था मामला

सीओ देहात पूनम सिरोही के अनुसार ललसाना गांव में श्मशान घाट के पास गांव के ही अरुण उर्फ रिंकू की लाश मिली थी। सुबह के वक्त घूमने निकले ग्रामीणों ने खून से लथपथ शव देखा तो हडकंप मच गया। जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची। अरुण के चेहरे पर धारदार हथियार से वार कर उसे मौत के घाट उतारा गया। पुलिस ने उसके निर्माण कार्य संबंधी ठेकेदार समेत गांव के कई लोगों से पूछताछ की, जिसमें पुलिस की जांच आगे नहीं बढ़ पाई। पुलिस ने अरुण की सीडीआर निकाली तो पूरे घटना के पीछे का सच सामने आ गया। पुलिस ने मृतक राजमिस्त्री अरुण उर्फ रिंकू की पत्नी व पुत्र से सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने जुर्म स्वीकार कर लिया।

यह भी पढ़ें: मंगेतर से लड़ाई पर ओटी टैक्नीशियन ने लगाया एनेस्थिसिया का इंजेक्शन, माैत

सीओ देहात पूनम सिरोही ने बताया कि पुलिस देर रात दोनों को साथ लेकर गांव में पहुंची। जहां पर उपलों के 100 बिटौडों के बीच दराती व बलकटी को बरामद कर लिया गया। हत्यारोपियों ने कहा कि अरुण शराब पीकर आए दिन के उनके साथ मारपीट करता था। जिससे वह काफी दुखी थी। मृतक के पुत्र जतिन ने ही अपने पिता का मोबाइल हौज में फेंका था। मृतका के तीन बेटी हैं जो कि एक कमरे के घर में ही रहते हैं।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned