बर्ड फ्लू इफेक्टः चिकन बाजार को लगा तगड़ा झटका, मछली बाजार में लगी भीड़, दोगुने हुए दाम

Highlights

- मेरठ में बढ गई मछली की डिमांड

- बर्ड फ्लू के चलते लोगों ने चिकन और अंडे से बनाई दूरी

- मेरठ के मछली बाजार में प्रतिदिन खप रही 5 कुंतल मछली

By: lokesh verma

Published: 15 Jan 2021, 12:50 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ. बर्ड फ्लू (Bird Flu) के इफेक्ट नॉनवेज बाजार पर भी पड़े हैं। इसके चलते जहां चिकन (Chicken) और अंडे की दुकानों से मांसाहार के शौकीनों ने दूरी बना ली है। वहीं अब मांसाहार के शौकीन मछली (Fish) से नजदीकी बढ़ा रहे हैं। मेरठ के नॉनवेज (Non Veg) के शौकीनों को अब मछली खूब भा रही है। यही कारण है कि मेरठ के मछली बाजार (Fish Market) में इन दिनों मछली के भाव 700 रुपये किलो तक पहुंच गए हैं। इन दिनों मेरठ में प्रतिदिन 5 कुंतल मछली की खपत हो रही है। हालात ये हैं कि पिछले एक सप्ताह में ही मछली के दामों में जबरदस्त इजाफा हुआ है। जिस मछली को सर्दी में कोई पूछ नहीं रहा था, उस मछली के भाव आज बढ़ गए हैं। बता दें कि सर्दियों में अंडा और मुर्गा की बिक्री बढ़ जाती है, लेकिन बर्ड फ्लू के चलते शौकीन इससे परहेज कर और मछली का स्वाद ले रहे हैं।

यह भी पढ़ें- बर्ड फ्लू अलर्ट के बीच दर्जनभर कौवों की रहस्यमयी तरीके से मौत, लोगों में दहशत

बढ़ी डिमांड तो बढ़ गए रेट

मछली व्यापारी हाजी सलीम का कहना है कि इन दिनों मछली की डिमांड अधिक बढ़ी है। जबकि बर्ड फ्लू के चलते चिकन के दाम में काफी कमी आई है। लोग मछली को आजकल अधिक पसंद कर रहे हैं। हाजी सलीम का कहना है कि मछली की डिमांड बढ़ने से दाम भी बढ़ गए हैं। उन्होंने बताया कि करई मछली डेढ़ सौ रुपये से बढ़कर 350 रुपये मिल रही है। इसी तरह पत्थरचटा, बजरिया, रोहू, सोल आदि मछलियों के दाम भी बढ़े हैं। उन्होंने बताया कि उनके यहां पर 700 रुपये किलो तक मछली है। रोहू, गिल की डिमांड भी अधिक है।

ठंड में मछली दिखा रही तेवर तो अंडा हुआ ठंडा

मेरठ महानगर में लोग पहले रोज 7 लाख अंडों की खपथ थी, जो दो सप्ताह के अंदर घटकर 1 लाख पर आ गई है। बर्ड फ्लू की वजह से अंडे के साथ ही चिकन के दाम भी गिरे हैं, लेकिन मछली की डिमांड बढ़ने के साथ ही दाम भी चढ़ गए हैं। शहर में मछली विक्रेताओं की कुछ जगहों पर ही दुकानें हैं। दुकानदार कहते हैं कि आजकल ग्राहकों की भीड़ लगी रहती है। कहते हैं कि पिछले कुछ दिन से कारोबार में तेजी आई है। दाम भी पहले से बढ़े हैं। सभी मछलियों के दाम एक सप्ताह में 200 से 300 रुपये तक बढ़े हैं।

ओमेगा-थ्री फैटी एसिड के साथ विटामिन भी

चिकित्सक भी मछली खाने के फायदे बताते हैं। मछली में ओमेगा-थ्री फैटी एसिड होता है, जो आयोडीन का अच्छा सोर्स है। इससे घोंघा रोग में कमी आती है। मछली खाने से प्रोटीन भी खूब मिलती है। इसमें विटामिन ए होने की वजह से नजर भी तेज होती है। कोलेस्ट्रॉल भी नियंत्रित रहता है। अगर गर्भवती महिलाएं मछली खाएं तो शिशु का दिमाग तेज होता है। सर्दी के दिनों में मछली खाने से ठंड का असर कम होता है।

पंजाबी और मुस्लिमों को भा रही मछली

चिकन के शौकीन अधिकांश पंजाबी और मुस्लिम समाज के हैं, लेकिन जब से बर्ड फ्लू के चलते लोगों ने चिकन से दूरी बनाई तो पंजाबी और मुस्लिमों को मछली खूब भा रही है। सिंह फ्रेश चिकन के मालिक जसविंदर ने बताया कि उन्होंने पिछले 10 दिन से चिकन का काम बिल्कुल बंद कर दिया है। उनके यहां आने वाले लोग अब मछली की डिमांड कर रहे है। वहीं मुस्लिम इलाकों में खुले चिकन कार्नर में भी अब मछली बिकनी शुरू हो गई है।

यह भी पढ़ें- Weather Alert: 26 जनवरी तक 7 जिलों में भीषण ठंड और कोहरे की चेतावनी, 2.5 डिग्री तक पहुंचा पारा

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned